विज्ञापन

फिर खत्म हो गए बोरे, तीस गेहूं खरीद केंद्र बंद

Rampur Updated Sun, 20 May 2012 12:00 PM IST
रामपुर। सरकारी खरीद केंद्रों पर बोरों की फिर कमी पड़ गई। तीस से ज्यादा केंद्र बंद हो गए है। पांच लाख बोरों की जो रैक आई थी उसे धमोरा में रोक दिया गया। क्योंकि यार्ड की री-माडयूलिंग हो रही है।
विज्ञापन
विज्ञापन
सरकारी गेहूं खरीद में बोरों की कमी आड़े आ रही है। डिमांड के मुताबिक एजेंसियों को बोरे नहीं मिल रहे हैं। जो बोरे आते हैं वे कुछ ही दिन में खत्म हो जाते हैं। कई एजेंसियों को तो उधार में भी बोरे लेने पड़े। कुछ दिन पहले 68 केंद्र बंद हो गए थे। बाद में एक लाख बोरे मिल जो एजेंसियों को आवंटित कर दिए गए। लेकिन सप्ताह भर में बोरों की कमी फिर पड़ गई। तीस से ज्यादा केंद्रों पर बोरे खत्म हो गए। इसलिए केंद्र बंद कर दिए गए। किसानों को अपना गेहूं केंद्रों से वापस लाना पड़ रहा है। हालांकि अब तक 90 हजार मीट्रिक टन के विपरीत करीब 55 हजार मीट्रिक टन गेहूं खरीदा जा चुका है।
डिप्टी आरएमओ जेएस तेवतिया ने बताया कि 45258 मीट्रिक टन एजेंसियों और 8637 मीट्रिक टन गेहूं कमीशन एजेंट के जरिए खरीदा जा चुका है। उन्होंने बताया कि पांच लाख बोरों की रैक मिल गई है। एजेंसियों का बोरों का आवंटन भी कर दिया है। लेकिन, रैक धमोरा में भी रोक दी गई है। क्योंकि इस वक्त रेलवे के सिग्नल व विद्युतीकरण का काम चल रहा है। उन्होंने बताया कि 20 मई की शाम तक रैक आ जाएगी और दूसरे दिन कें द्रों पर बोरे पहुंच जाएंगे।

Recommended

कुंभ मेले में अतुल धन, वैभव, समृधि प्राप्ति हेतु विशेष पूजा करवायें और प्रसाद की होम डिलीवरी पायें
त्रिवेणी संगम पूजा

कुंभ मेले में अतुल धन, वैभव, समृधि प्राप्ति हेतु विशेष पूजा करवायें और प्रसाद की होम डिलीवरी पायें

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

हरियाणा के गुरुग्राम में बड़ा हादसा, चार मंजिला इमारत गिरी

हरियाणा के गुरुग्राम में एक बड़ा हादसा हो गया है। यहां के उलावास इलाके में एक चार मंजिला इमारत गिर गई है। घटनास्थल पर एनडीआरएफ की टीम राहत कार्य में जुटी हुई है। देखिए ये रिपोर्ट।

24 जनवरी 2019

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree