लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   ›   तलाक और पौने चार लाख देकर दूल्हा छूटा

तलाक और पौने चार लाख देकर दूल्हा छूटा

Rampur Updated Sun, 20 May 2012 12:00 PM IST
स्वार। दहेज में कार की मांग पर बंधक दूल्हा और छह बारातियों को तलाक और पौने चार लाख का हर्जाना देकर मुक्ति मिली। यह फैसला बिरादरी की पंचायत ने निपटा दिया। समझौता होने पर पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज नहीं की। दूल्हा और बारातियों को घर जाने दिया गया।

थाना टांडा क्षेत्र के गांव अलीनगर निवासी साजिद पुत्र अफसर की बारात बुद्धवार को क्षेत्र के मिलक काजी गांव में आई थी। आरोप है कि दूल्हा ने निकाह के बाद सलामी में कार और नगदी की मांग कर दी। लड़की वालों ने विरोध किया तो भागने का प्रयास करने लगा। तब वधू पक्ष ने दूल्हे एवं उसके पिता सहित बारातियों की पिटाई कर छह लोगों को बंधक बना लिया। गुरुवार को सुबह पुलिस को सौंप दिया। दो दिन तक कोतवाली में मामले के निपटारे को लेकर पंचायत चलती रही। इसमें शुक्रवार को देर रात पंचायत में वर पक्ष द्वारा वधू पक्ष को हर्जाने के तौर पर पौने चार लाख रुपये की रकम अदा करने और तलाक देने का फैसला सुनाया। इस पर दोनों पक्ष सहमत हो गए। देर रात पंचों की मौजूदगी में दूल्हे ने दुल्हन को तलाक दे दिया। पौने चार लाख की रकम शीघ्र वर पक्ष द्वारा अदा करने की जिम्मेदारी पंचों ने ले ली। बाद में समझौते के चलते पुलिस ने दूल्हा एवं उसके पिता सहित हिरासत में लिए छह लोगों को छोड़ दिया। मामले की रिपोर्ट दर्ज नहीं हुई है। कोतवाल डीसी शर्मा ने बताया कि दोनों पक्षों का समझौता हो गया है। कोई कार्रवाई नही की गई है। निकाह के बाद विदाई से पहले ही तलाक का मामला चरचा में है।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00