बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

तलाक और पौने चार लाख देकर दूल्हा छूटा

Rampur Updated Sun, 20 May 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
स्वार। दहेज में कार की मांग पर बंधक दूल्हा और छह बारातियों को तलाक और पौने चार लाख का हर्जाना देकर मुक्ति मिली। यह फैसला बिरादरी की पंचायत ने निपटा दिया। समझौता होने पर पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज नहीं की। दूल्हा और बारातियों को घर जाने दिया गया।
विज्ञापन

थाना टांडा क्षेत्र के गांव अलीनगर निवासी साजिद पुत्र अफसर की बारात बुद्धवार को क्षेत्र के मिलक काजी गांव में आई थी। आरोप है कि दूल्हा ने निकाह के बाद सलामी में कार और नगदी की मांग कर दी। लड़की वालों ने विरोध किया तो भागने का प्रयास करने लगा। तब वधू पक्ष ने दूल्हे एवं उसके पिता सहित बारातियों की पिटाई कर छह लोगों को बंधक बना लिया। गुरुवार को सुबह पुलिस को सौंप दिया। दो दिन तक कोतवाली में मामले के निपटारे को लेकर पंचायत चलती रही। इसमें शुक्रवार को देर रात पंचायत में वर पक्ष द्वारा वधू पक्ष को हर्जाने के तौर पर पौने चार लाख रुपये की रकम अदा करने और तलाक देने का फैसला सुनाया। इस पर दोनों पक्ष सहमत हो गए। देर रात पंचों की मौजूदगी में दूल्हे ने दुल्हन को तलाक दे दिया। पौने चार लाख की रकम शीघ्र वर पक्ष द्वारा अदा करने की जिम्मेदारी पंचों ने ले ली। बाद में समझौते के चलते पुलिस ने दूल्हा एवं उसके पिता सहित हिरासत में लिए छह लोगों को छोड़ दिया। मामले की रिपोर्ट दर्ज नहीं हुई है। कोतवाल डीसी शर्मा ने बताया कि दोनों पक्षों का समझौता हो गया है। कोई कार्रवाई नही की गई है। निकाह के बाद विदाई से पहले ही तलाक का मामला चरचा में है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us