आरईएस अफसरों को क्लीन चिट

Rampur Updated Thu, 10 May 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
रामपुर। भ्रष्टाचार के आरोप से घिरे आरईएस के अफसरों को कोर्ट ने राहत दे दी है। ठेकेदार कोर्ट में अफसरों पर भ्रष्टाचार के आरोप साबित नहीं कर पाया,जिस पर कोर्ट ने अफसरों को राहत देते हुए वाद को खारिज कर दिया।
विज्ञापन

सिविल लाइंस थाना क्षेत्र की कृष्णा विहार कालोनी निवासी अश्विनी कुमार चौहान ठेकेदारी करता है। उसने पिछले दिनों कोर्ट में अपने अधिवक्ता केमाध्यम से प्रार्थना पत्र दिया था,जिसमें उन्होंने आरईएस के अधिशासी अभियंता, एई व जेई और क्लर्क के खिलाफ मारपीट करने और रिश्वत लेकर कामकाज का भुगतान करने का आरोप लगाया था। उनका कहना था कि उनके द्वारा अंबेडकर गांव मजरा सेढ़ू में सीसी रोड डाली गई थी,जिसका भुगतान किया जाना था। उसका आरोप है कि अफसरों की ओर से लगातार फोन पर धमकाया जा रहा है साथ ही ठेकेदारी का लाइसेंस निरस्त कराने और ब्लैक लिस्टेड करने की बात कही जा रही है। इस मामले की सुनवाई करते हुए एडीजे स्पेशल जज ईसी एक्ट आफताब आलम खां ने दोनो पक्षों की दलील सुनने के बाद कोर्ट ने आरईएस अफसरों पर लगाए गए आरोप बेबुनियाद करार दिए। साथ ही ठेकेदार द्वारा प्रस्तुत वाद को खारिज कर दिया।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us