सीआरपीएफ हमले में दूसरी गवाही पूरी

Rampur Updated Fri, 04 May 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

रामपुर। सीआरपीएफ ग्रुप सेंटर पर आतंकी हमले के मामले में कोर्ट के सख्त रवैये के बाद हमले के गवाह पुलिस कर्मी ने कोर्ट पहुंचकर गवाही दी। इस प्रकरण में दो लोगों की गवाही पूरी हो चुकी है। इस मामले की सुनवाई 21 मई को होगी
विज्ञापन

31 दिसंबर 07 की रात आतंकियों ने सात जवानों समेत आठ लोगों को मौत के घाट उतार दिया था। टीमों ने हमले के चालीस दिन बाद पाक आतंकी इमरान शहजाद, मुहम्मद फारूख शबाउद्दीन उर्फ सबा, फईम, जंगबहादुर, मुहम्मद शरीफ, मुहम्मद कौसर और गुलाब खां को गिरफ्तार कर लिया था। गुरुवार को पाक आतंकियों समेत सभी को कड़ी सुरक्षा में स्पेशल जज(ईसी एक्ट)आफताब आलम खां की कोर्ट में पेश किया गया। कोर्ट में दूसरे गवाह बनाए गए एफआईआर लेखक सतीश चंद्र शर्मा पेश हुए। उन्होंने गवाही दी। इसमें तहरीर के आधार पर रिपोर्ट दर्ज करने की पुष्टि की। गवाही पूरी होने के बाद आरोपियों के अधिवक्ताओं ने जिरह की। कोर्ट ने अगली सुनवाई के लिए 21 मई की तारीख मुकर्रर की है। पेशी के दौरान सुरक्षा व्यवस्था कड़ी रही।

31 दिसंबर 07 की रात में मैं थाना सिविल लाइंस में बतौर मुंशी के तौर पर तैनात था। उस रात वायरलेस सैट के जरिए रात 2.50 बजे सूचना मिली कि सीआरपीएफ ग्रुप सेंटर पर हमला हो गया है। इसके आधार पर सुबह 5.50 बजे वादी दारोगा ओमप्रकाश शर्मा की ओर से लिखी गई अदम तहरीर के आधार पर मेरे द्वारा थाना सिविल लाइंस में मुकदमा लिखा गया था जो तहरीर में लिखा था वो हू बहू वही मैंने लिखा था और पूरी घटना का तस्करा जीडी में इंद्राज किया था और जीडी आज मेरे सामने है, जिसकी मैं तस्दीक करता हूं।

सतीश चंद्र शर्मा
गवाह-2(एफआईआर लेखक)
थाना सिविल लाइंस रामपुर
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us