बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

पैगंबरपुर पीएचसी में हाजिरी देंगे डा. रजनीश

Rampur Updated Wed, 02 May 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
रामपुर। बिलासपुर के पूर्व चिकित्सा अधीक्षक डा. रजनीश जेल से जमानत पर रिहा होने के बाद पीएचसी पैगंबरपुर में भेज दिए गए हैं। यहां उन्हें अपनी हाजिरी देनी होगी। उनके निलंबन की कार्रवाई शासन से निर्देश मिलने के बाद की जाएगी।
विज्ञापन

गौरतलब हो कि 23 अप्रैल को कैबिनेट मंत्री आजम खां ने बिलासपुर सीएचसी के चिकित्सा अधीक्षक डा. रजनीश अपनी पत्नी के निजी क्लीनिक में प्रैक्टिस करते हुए पकड़ा था। इस आरोप में उनके खिलाफ डिप्टी सीएमओ एमसी गर्ग ने धोखाधड़ी और भ्रष्टाचार के आरोप में बिलासपुर थाने में दर्ज कराया था। कोर्ट के आदेश पर उन्हें जेल भेज दिया गया था। 27 अप्रैल को डा. रजनीश जमानत पर रिहा हो गए। इसके बाद उन्हें पीएचसी में रिक्त पद पर भेजने की कार्रवाई शुरू कर दी गई थी।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. एसके जैन ने बताया कि जमानत मिलने के बाद डा. रजनीश ने 28 अप्रैल को सीएमओ कार्यालय में योगदान आख्या जमा की थी। तीस अप्रैल को उस आख्या के साथ पूरी कार्रवाई समेत संबंधित जानकारी को एक पत्र के माध्यम से प्रमुख सचिव को अवगत कराया गया। अब डा. रजनीश को स्वार की एडिशनल पीएचसी पैगंबरपुर में उपस्थिति दर्ज करानी होगी। सीएमओ ने बताया कि जब तक शासन से निलंबन के निर्देश नहीं आ जाते, डा. रजनीश को इस पीएचसी में हाजिरी देनी होगी।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us