विज्ञापन
विज्ञापन
UP Board Result 2019 UP Board Result 2019

हो रही है अवैध रूप से डंप मौरंग की निकासी

Hamirpur Updated Tue, 28 Aug 2012 12:00 PM IST
मौदहा (हमीरपुर)। क्षेत्र में मौरंग की खदाने बंद हैं। इसकी कमी पूरी करने के लिए अवैध रूप से लाई जा रही मौरंग से की जा रही है। कस्बे में भी कई स्थानों पर डंप कर इसका धंधा हो रहा है। पकड़े जाने पर ये व्यवसायी पहले के रखे एमएम 11 रायल्टी रसीद दिखाकर वाहन छुड़ा लेते हैं। इससे राजस्व का लाखों का चूना लग रहा है।
विज्ञापन
विज्ञापन
मौरंग का अवैध व्यापार ज्यादातर सीमावर्ती केन नदी से बीते जून और जुलाई महीनों में किया गया है। इधर नदी में बाढ़ की स्थित आ जाने से खनन कार्य बंद है। लेकिन पहले से किए गए अवैध खनन के स्टाक इन दिनों आधी रात के बाद किया जा रहा है। ट्रैक्टर ट्रालियों में लादकर इस मौरंग को लाया जा रहा है। कारोबारी इस मौरंग का सौदा पहले से ही भवन निर्माण कराने से तय कर लेते हैं। इतना ही नहीं कस्बे में लाइसेंस के नाम पर कुछ बालू के धंधेबाज इनसे सांठगांठ कर अपने डंप पर बालू डलवा रहे हैं। मंहगे दामों पर कस्बा सहित आसपास के क्षेत्रों में इसकी बिक्री कर रहे हैं। उच्चाधिकारियों का दबाव पड़ने पर ये लोग पहले से ही रखी एमएम 11 की रायल्टी पर्ची दिखाकर बच जाते हैं। वहीं बालू की खदानों के न खुलने से सरकारी कार्य बुरी तरह प्रभावित है।
इनसेट
एसडीएम ने थानेदारों को लिखा पत्र
मौदहा। उप जिलाधिकारी जेबी सिंह ने मौरंग के हो रहे अवैध कारोबार पर संबंधित थानाध्यक्षों को पत्र जारी किया। उन्होंने थानाध्यक्षों से अवैध रूप से आधी रात बाद हो रही मौरंग की निकासी पर रोक लगाने संबंधी प्रमाण पत्र भी मांगा है। एसडीएम ने बताया कि मौरंग की ढुलाई पर की गई शक्ति के बाद अब दिन में इसक ा धंधा बंद है। जबकि देर रात मौरंग की निकासी की जानकारी मिल रही है।
इनसेट
मौरंग की रोक से चमका गिट्टी डस्ट कारोबार
मौरग का कारोबार बंद होने से चोरी छिपे बेची जा रही मौरंग आम लोगों को मंहगी पड़ रही है। ऐसे में भवन निर्माण करा रहे ज्यादातर लोग कबरई स्थित क्रेशरों से निकलने वाली डस्ट पर आश्रित हैं। चोरी छिपे मिलने वाली मौरंग के दाम आसमान छू रहे हैं। साथ ही इसके पकड़े का खतरा भी रहता है। ऐसे में भवन निर्माता डस्ट लगाना ही बेहतर समझते हैं। संजरी ग्रेनाइट के नौशाद अहमद का कहना है कि मौरंग कारोबार बंद होने से अब लोगों का रुझान क्रे शरों से निकलने वाली डस्ट की ओर बढ़ा है। डस्ट की बिक्री पहले 100 रुपए में 100 फुट मिलती रही है। लेकिन मांग बढ़ने से सात सौ फुट बिकने लगी है। लेकिन मौरंग की मौजूदा दरों से आधे दामों पर 25 से 30 किमी के दायरे में बेची जा रही है। बताया कि अब क्रेशरों पर लखनऊ तक इसे भेजा जा रहा है।

Recommended

UP Board Results देखने के लिए आज ही 8929470909 नंबर पर मिस्ड कॉल करें और फोन पर पाएं परिणाम
UP Board 2019

UP Board Results देखने के लिए आज ही 8929470909 नंबर पर मिस्ड कॉल करें और फोन पर पाएं परिणाम

कब और कैसे मिलेगी सरकारी नौकरी ?
ज्योतिष समाधान

कब और कैसे मिलेगी सरकारी नौकरी ?

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

आज का पंचांग : 26 अप्रैल 2019, शुक्रवार

शुक्रवार को लग रहा है कौन सा नक्षत्र और बन रहा है कौन सा योग? दिन के किस पहर करें शुभ काम? जानिए यहां और देखिए पंचांग शुक्रवार 26 अप्रैल 2019.

26 अप्रैल 2019

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election