टीचरों को ईद से पहले वेतन दिलाने का आश्वासन

Hamirpur Updated Fri, 17 Aug 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

हमीरपुर/मौदहा । स्थानीय कोतवाली में पुलिस ने रोजा इफ्तार में डीएम बी चंद्रकला और पुलिस अधीक्षक सैय्यद वसीम अहमद ने रोजेदारों के साथ इफ्तार किया। अधिकारियों ने कौमी एकता पर जोर देते हुए ईद को मिल जुलकर मनाने पर जोर दिया। डीएम ने इस मौके पर बेसिक शिक्षा के टीचरों को ईद से पूर्व वेतन दिलाने का आश्वासन दिया। कोतवाली में हुई पार्टी में बड़ी जामा मस्जिद के पेश इमाम कारी शफकत उल्ला, पेश इमाम सदर मुदर्रिश यतीमखाना रहमानियां आलिम सनाउल्ला साहब, पेश इमाम कारी फारुख साहब, जामा मस्जिद चौधराना के पेश इमाम मौलाना अताउर्रहमान, मदरसा यादगार मोहम्मदी के प्रधानाचार्य नसीम आलम, रहमानियां कालेज के प्रबंधक हाजी शफी अहमद, मदरसा नूरे निजामी के संस्थापक हाजी शब्बीर उद्दीन, बड़ी जामा मस्जिद व ईदगाह के अप्पू, मुईद अहमद, सपा के जिला महासचिव कमरुद्दीन, जिला पंचायत संचालन समिति के सदस्य प्रतिनिधि रामबाबू यादव, वरिष्ठ सपा नेता इदरीश खान, सूरजबली यादव, जगन्नाथ यादव सहित बड़ी संख्या में मौलवी आसपास के प्रधान, पालिका अध्यक्ष प्रतिनिधि बाल्मीकि गोस्वामी मौजूद रहे। रोजा इफ्तार से कुछ समय पहले डीएम व एसपी ने ईद त्योहार को लेकर लोगों की समस्याएं जानी।
विज्ञापन

अंबेडकर गांव पाराओझी के शिक्षक नेता मोहम्मद अनवर के आवास पर रोजा इफ्तार पार्टी में आसपास के गांवो सहित नगर के रोजेदारों ने भाग लिया। बुधवार को पाराओझी गांव में रोजा इफ्तार पार्टी में आए काजी शफकत अली ने कहा कि रोजा रखने से इंसान में ईमान व सच्चाई की जिज्ञासा जागृति होती है। सपा जिलाध्यक्ष ज्ञान सिंह ने कहा कि रोजा इफ्तार कराने से भाईचारा व एकता बढ़ती है। इस मौके पर मुश्ताक अहमद, रहीम बख्श एडवोकेट, जफर, इरफान जमाल, मुईन भाई, युसूफ मुहम्मद, सद्दाम, सत्तार, सलीम वारसी उपस्थित रहे।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us