नियमित करें नहीं तो 22 से हड़ताल

Hamirpur Updated Fri, 17 Aug 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

हमीरपुर। नगर विकास कर्मचारी महासंघ के कर्मचारियों ने गुरुवार को मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन उप जिलाधिकारी सदर रामवीर सिंह को सौंपा। इसमें शासन के आए पत्र के तहत संविदा समाप्त करने के निर्देशों पर कर्मचारियों ने नियमित करने की मांग की। कर्मचारियों ने कहा कि 22 अगस्त तक मांगे नहीं मानी गई तो कर्मचारी अनिश्चित कालीन हड़ताल कर देंगे।
विज्ञापन

स्थानीय नगर पालिका के कर्मचारियों ने गुरुवार को उपजिलाधिकारी को ज्ञापन दिया। नगर विकास कर्मचारी महासंघ के अध्यक्ष संतोष कुमार द्विवेदी, मंत्री शिवनारायण यादव, संजीत कुमार, सत्तीदीन, राजेश, रज्जन, अजीत, कमल किशोर, उमाशंकर, रामआसरे लालदीवान, रबी, जगदीश सहित अन्य कर्मचारियों ने कहा कि 29 जून 1991 के समस्त संवर्गो में कार्यरत संविदा कर्मचारियों को हटाने के लिए 23 जुलाई को जारी किया गया है। उसे तत्काल प्रभाव से निरस्त किया जाए। साथ ही प्रदेश के अकेंद्रीयत निकाय कर्मचारियों की सेवा शर्तों नगर निगम अधिनियम 1959 व नगर पालिका अधिनियम 1991 में संसोधन करते हुए स्थानांतरण आदि की कार्रवाई को तत्काल प्रभाव से निरस्त करने को कहा गया। क र्मचारियों ने सेवा नियमावली एवं पेंशन नियमावली तत्काल लागू करने की मांग की। पंचम वेतन आयोग की तरह छठवां वेतन आयोग लागू होने के बाद निकायों में आए अतिरिक्त व्यय भार का 50 प्रतिशत प्रदेश सरकार स्वय वहन करते हुए राज्य वित्त आयोग द्वारा दी जाने वाली धनराशि से 9 प्रतिशत कर्मचारियों को देने की बात कही गई। कर्मचारियों ने कहा कि 22 अगस्त तक अगर मांगे नहीं मानी गई तो कर्मचारी अनिश्चित कालीन कार्यबंदी हड़ताल कर देंगे। जिसके लिए शासन प्रशासन ही जिम्मेदार होगा।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us