कर्मचारियों की कमी से बिजली व्यवस्था लड़खड़ाई

Hamirpur Updated Mon, 13 Aug 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

मौदहा (हमीरपुर)। पावर कारपोरेशन में विभागीय कर्मचारियों का अभाव है। वहीं रविवार को नेशनल मार्ग स्थित एक लाइन बनाते समय तिंदुही गांव निवासी एक प्राइवेट कर्मी खंभे से गिरकर बुरी तरह घायल हो गया। हालत गंभीर होने पर उसे कानपुर रीजेंसी अस्पताल भेजा गया है।
विज्ञापन

पावर कारपोरेशन के कसबा स्थित सब स्टेशन में मात्र चार विभागीय कर्मी है। जबकि इस स्टेशन से आठ फ ीडर संचालित किए जा रहे है। सैकड़ों किमी फैली लाइनों में काम करने के लिए इतने कर्मी नाकाफी है। हालत यह है कि मौजूदा समय में न तो संविदा कर्मी है और न ही दैनिक वेतन भोगी। इस हालत में बिजली की समस्या के समाधान व उपभोक्ताओं को राहत देने के लिए अकेले कसबे में एक दर्जन के करीब लोगों से काम कराया जा रहा है। खुद जोखिम उठाने वालों की सुधि लेने को विभाग तैयार नहीं है। इस संबंध में पावर कारपोरेशन के एसडीओ एसएस शर्मा ने कहा कि जोखिम भरे काम के मामले में अधिशाषी अभियंता से पूछा जाए। जबकि जेई ज्ञानेश कुमार इस सवाल पर मौन साध गए। ऐसी ही रविवार को घटी घटना में तिदुंही गांव निवासी बासुदेव (22) जो बिजली की लाइनों में काम करता है। वह नेशनल कालेज मार्ग स्थित पेयजल की खराब विद्युत लाइन ठीक कर रहा था तभी खंभे से नीचे आ गिरा। हालत गंभीर होने पर सदर अस्पताल से कानपुर के रीजेंसी अस्पताल भेजा गया है।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us