शराबी पति ने बेंच दिया खाने पीने का सामान

Hamirpur Updated Sat, 21 Jul 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

मौदहा। छिरका गांव की एक महिला शुक्रवार को अपने शराबी व जुआंरी पति से तंग आकर कोतवाली में कोतवाल के सामने दहाड़े मारकर मदद की गुहार लगाती रही। महिला का कहना है कि उसका पति घर का सामान बेचने के साथ ही खाने के लिए लाए गए गेहूं को भी बेच चुका है। इससे उसके बच्चों को सुबह से खाना नहीं मिला है।
विज्ञापन

गांव निवासी सूरजपाल निषाद की पत्नी गीता अस्तव्यस्त स्थित में कोतवाली पहुंची। वहां मौजूद कोतवाल संतलाल को बताया कि वह भट्ठों में ईंट की पथाई करके कुछ पैसे लाई थी। उससे परिवार चलाने के लिए गेहूं व अन्य गृहस्थी का सामान लिया था। उसके तीन बच्चे हैं। वह मजदूरी कर परिवार का पेट पाल रही है, जबकि पति शराबी व जुआरी है। कर्ज लेकर जुआं खेलता है। कहा कि घर पर रखे आटे को भी बेच डाला। बताया कि वह पहले भी शिकायत कर चुकी है। कहा कि अब उसके व उसके बच्चों का जीवन खतरे में पड़ गया है। कोतवाल ने महिला दर्द सुनते ही उसके आवारा पति की तलाश के लिए पुलिस भेजी है। कहा कि पूरी मदद की जाएगी।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us