चयनित गांवों के चहेतों को ही मिली मुफ्त बीज किट

Hamirpur Updated Wed, 18 Jul 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

कुरारा (हमीरपुर)। कृषि विभाग के अलावा जिला कृषि विज्ञान केंद्र भी किसानों को उन्नतिशील खेती करने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है लेकिन केंद्र से निशुल्क बीज किट बिना प्रचार प्रसार के कुछ ही किसानों तक सीमित है। फिलहाल चयनित गांवों के किसान केंद्र से बीज पाने को चक्कर लगा रहे है। केंद्र प्रभारी आरबी सिंह ने फोन पर कहा कि जितने भी बीज किट आए है उन सबको किसानों में वितरण किया जा चुका है।
विज्ञापन

कुरारा कसबा स्थित कृषि विज्ञान केंद्र के जरिए किसानों को नई प्रजातियों के बीजों का वितरण करने के साथ नई तकनीक से खेती करने का प्रशिक्षण दिया जा रहा है लेकिन इस केंद्र की गतिविधियां शून्य है। जिम्मेदार अधिकारियों के न मिलने से किसान निराश है। खरीफ अभियान में क्षेत्र के जल्ला, कुरारा, सरसई, डामर, शेखूपुर व रघवा गांवो के किसानों को बीज प्रदर्शन के लिए चयनित किया है। कृषि विज्ञान केंद्र ने दिए जाने वाले बीज को लेकर संबंधित गांवों में प्रचार प्रसार नहीं कराया गया बल्कि कुछ चुनिंदा किसानों को चुपके से बीज का वितरण कर दिया। इस मामले की जानकारी पर अब तमाम किसान उन्नतशील बीजों के किट प्राप्त करने के लिए कृषि विज्ञान केंद्र के चक्कर काट रहे है। जल्ला गांव के किसान कामता प्रसाद द्विवेदी, संतोष सिंह, रामसजीवन सहित अन्य किसानों ने बताया कि गांव के सिर्फ दो किसानों को ही बीज दिया गया है। जबकि अन्य किसान इससे वंचित है। किसानाें का कहना है कि वह बीजो के लिए सुबह से शाम तक बैठे रहते है लेकिन कृषि विज्ञान केंद्र में छोटे कर्मचारियों के अलावा कोई नहीं मिल रहा है।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us