गड्ढे वाली सड़कें बनी तालाब

Hamirpur Updated Mon, 16 Jul 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

भरुआसुमेरपुर (हमीरपुर)। प्रदेश के लोक निर्माण मंत्री के गड्ढा मुक्त सड़क देने के आदेशाें का कार्यान्वयन स्थानीय अधिकारियों की वजह से हवा-हवाई साबित हो रहा है। बारिश में कसबे की स्टेशन रोड पर गड्ढाें में पानी भरने से स्कूली बच्चों व राहगीरों को कीचड़ से बचना मुश्किल होता है।
विज्ञापन

प्रदेश के लोक निर्माण विभाग मंत्री शिवपाल यादव ने सड़काें को लेकर घोषणा की थी कि प्रदेश की कोई भी सड़क पर 30 जून के बाद गड्ढे नहीं दिखेंगे। अगर किसी सड़क में गड्ढा मिला तो सीधे अधिशासी अभियंता पर कार्रवाई की जाएगी। लेकिन क्षेत्र की ज्यादातर सड़कें गड्ढाें में तब्दील है। कसबे से स्टेशन रोड जाने वाली सड़क, बांदा रोड़, सुमेरपुर पत्यौरा मार्ग आदि में गड्ढे हैं। सबसे बुरा हाल स्टेशन रोड व बांदा मार्ग का है। बारिश होने पर यह सड़क तालाबों जैसे नजर आ रहे है। वाहन व बसों के गुजरने पर पानी के साथ कीचड़ उछलने पर लोगों को कीचड़ से नहा जाते हैं। कसबे के स्टेशन रोड पर बिल्डिंग मैटेरियल के दुकानदारों के अतिक्रमण से बारिश का पानी नालों में नहीं जा रहा है। इसी तरह नगर पंचायत सड़कों के अतिक्रमण हटाने के लिए कई बार प्रचार करवा चुका है लेकिन नतीजा ढाक के तीन पात रहा। लोनिवि के सहायक अभियंता मनोज कुमार का कहना है कि सड़क चौड़ीकरण का कार्य चल रहा है। बस्ती के बाहर का काम लगभग पूरा है। कसबे के अंदर सड़क की ऊंचाई बढ़ाने के साथ नालों पर किए गए अतिक्रमण को हटाएंगे।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us