विज्ञापन

प्रतिबंध के बाद भी मछलियों का शिकार

Hamirpur Updated Sun, 15 Jul 2012 12:00 PM IST
हमीरपुर। प्रजजन काल के दौरान मत्स्य आखेट करना प्रतिबध़ित है। इसके बावजूद कुछ ठेकेदार मनमानी तरीके से नदियों में जाल डाल मछलियों का शिकार करने में जुटे है। वहीं मत्स्य विभाग को यही नही पता कि नदियों में मछलियों का शिकार कौन कर रहा है।
विज्ञापन
विज्ञापन
गौरतलब हो कि एक जुलाई से 15 अगस्त तक मछलियों का प्रजजन काल शुरू हो जाता है। मछलियों की जन्मदर बढ़ाने के लिए इनके शिकार पर पूर्णतया प्रतिबंध होता है। लेकिन कुछ लोग प्रतिबंध के बावजूद नदियों में जाल डालकर मनमाने तरीके से मछलियों का शिकार कर रहे है। इन मछलियों को पकड़कर शिकारी ऊंचे दामों में बेच रहे है। इसके पीछे प्रतिबंध के दौरान मछलियों की कमी होते ही मांग बढ़ जाती है और इन ठेकेदारों को अधिक मुनाफा मिलने लगता है। मुख्यालय में बेतवा व यमुना से हो रहे आखेट के बाद कानपुर जैसे शहरों में बड़ी तादाद मछलियां भेजी जा रही है। साथ ही रमेड़ी तरौस व पुल के निकट मछलियों की दुकानों पर बेधड़क बेचने का काम जारी है। इस मामले में सहायक निदेशक मत्स्य रामस्वरूप का कहना है कि उन्हें खुद ही पता नहीं है कि इन नदियों के कितने ठेकेदार काम कर रहे है। नदियों के मत्स्य आखेट के पट्टे जिला परिषद से दिए जाते है।

Recommended

क्या आप अपने करियर को लेकर उलझन में हैं ? समाधान पायें हमारे अनुभवी ज्योतिषिचर्या से
ज्योतिष समाधान

क्या आप अपने करियर को लेकर उलझन में हैं ? समाधान पायें हमारे अनुभवी ज्योतिषिचर्या से

जानें क्यों होता है बार-बार आर्थिक नुकसान? समाधान पायें हमारे अनुभवी ज्योतिषिचर्या से
ज्योतिष समाधान

जानें क्यों होता है बार-बार आर्थिक नुकसान? समाधान पायें हमारे अनुभवी ज्योतिषिचर्या से

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

बीजेपी की दूसरी लिस्ट में संबित पात्रा का नाम शामिल सहित दिनभर की 5 बड़ी खबरें

अमर उजाला डॉट कॉम पर देश-दुनिया की राजनीति, खेल, क्राइम, सिनेमा, फैशन और धर्म से जुड़ी खबरें। देखिए LIVE BULLETIN - शाम 5 बजे।

23 मार्च 2019

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree