बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

मिलावट खोरी में एक और दूधिये पर शिकंजा

Hamirpur Updated Sun, 15 Jul 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
हमीरपुर। खाद्य पदार्थों की मिलावट और आम लोगों के स्वास्थ्य खिलवाड़ करने वालों पर शिकंजा जिला प्रशासन शिकंजा कस रहा है। मिलावट खोरी के मामले में एक बार फिर अपर जिला मजिस्ट्रेट/न्याय निर्णायक अधिकारी एचजीएस पुंडीर की अदालत ने दूधिये पर जुर्माना लगाया है। मिलावटी दूध बेचने वाले दुकानदार पर 15 हजार का अर्थदंड लगाया है।
विज्ञापन

खाद्य सुरक्षा दल के अधिकारियों की ताबड़तोड़ कार्रवाई के नतीजे सामने आने लगे है। बीते 24 नवंबर 2011 को टीम ने मुख्यालय से जुड़े भिलावां के संदीप कुमार के दूध का नमूना लिया। मौके पर दूधिया के पास 70 लीटर दूध मिला। टीम ने दूध का नमूना लेने के बाद जांच के लिए आगरा खाद्य विश्लेषक इकाई भेजा। जांच में यह नमूना अधोमानक पाया गया। इस पर खाद्य विभाग के अभिहित अधिकारी दिनेशचंद्र की अनुमति से खाद्य सुरक्षा अधिकारी बीएन कटियार ने अपर जिला मजिस्ट्रेट/न्याय निर्णायक अधिकारी की अदालत मेें मामला दाखिल किया। अपर जिला मजिस्ट्रेट एचजीएस पुंडीर की अदालत ने दूध का नमूना फेल होने पर पांच हजार व बिना लाइसेंस के धंधा करने पर 10 हजार का जुर्माना ठोंका है। अदालत ने आरोपी को यह भी आदेश दिया कि अगर एक पखवारे के अंदर अर्थदंड की धनराशि नहीं जमा की गई तो उससे भूराजस्व की तरह वसूला जाएगा।


मिलावटी खाद्य पदार्थो पर हाल में हुई कार्रवाई (एक नजर में)
दिनांक नाम निवासी खाद्य पदार्थ जुर्माना
31 मई दीपू गुप्ता भटियाना राठ सरसों का तेल 5 हजार
01 जून ओमप्रकाशसिंह सिकहुला (बांदा) दूध 35 हजार
01 जून सुमित गुप्ता/जगदंबा मौदहा देशी घी 50 हजार
14 जून राकेश सिंह चंदूपुर दूध 38 हजार
22 जून बलसिंह सचान पौथिया दूध 2.10 लाख
22 जून शिवकुमार मुस्करा सरसो का तेल 1 लाख
25 जून बाबूराम निषाद चंदूपुर दूध 20 हजार

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us