विज्ञापन

जून भर जलता रहा जिला

Hamirpur Updated Tue, 03 Jul 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
मौदहा (हमीरपुर)। चालू वर्ष का जून माह सूखे और भीषण गर्मी की भेंट चढ़ गया। गर्मी की वजह से लोगों का हाल बेहाल रहा। आसमान में मामूली बादल आते ही किसान का मन प्रफुल्लित होने लगता लेकिन कुछ ही देर में सूर्य देव के निकलने से निराशा ही हाथ लगती रही। अभी भी किसान आसमान की ओर टकटकी लगाए देख रहा है।
विज्ञापन
बीते वर्ष 2011 में तहसील क्षेत्र में 624 मिलीमीटर बारिश होने से जलस्तर सामान्य हो गया और फसलों की पैदावार भी ठीक रही। वहीं बीते वर्ष के जून माह में अकेले 336.9 एमएम बारिश रिकार्ड हुई। सूखे की मार झेलता चले आ रहे बुंदेलखंड को इस बार भी सूखे का मुंह देखना पड़ रहा है। बीते वर्ष के जून में प्रतिदिन बारिश होने का असर यह हुआ तालाब नदियां और खेत जलमग्न हो गए लेकिन खेतों में किसान बुआई नहीं कर सका। इससे खरीफ में पैदा की जाने वाली फसलें नहीं हो सकीं। फिलहाल दो वर्षों में अच्छी बरसात हुई जिससे किसानों को राहत मिली। कुल मिलाकर बीते वर्ष 614.4 एमएम बारिश रिकार्ड की गई। अकेले जून में ही 336.9 एमएम हुई। जून की बरसात पर नजर डाली जाए तो 15 जून को 54.2 एमएम, 16 को 32.2 एमएम, 17 को 22.8 एमएम, 20 को 4 एमएम, 21 को 3.2, 22 को 20 एमएम, 26 को 82 एमएम, 27 को 6 एमएम, 28 को 59 एमएम व 29 को 93.9 एमएम तथा 30 78.6 एमएम वारिश हुई जो अपने आप में रिकार्ड है। जबकि चालू वर्ष का जून सूखे की भेंट चढ़ गया।
वर्षा मापी संयंत्र चोर ले गए
मौदहा (हमीरपुर)। तहसील परिसर स्थित उप कोषागार भवन के किनारे देशी पद्धति वर्षा मापी यंत्र वर्षों पहले लगाया गया। इस छोटे से चबूतरे में प्लास्टिक के गोल पाइप के अंदर लोहे का एक यंत्र था जिसमें वर्षा मापने का गेज लगा था। बीते वर्ष इस वर्षा मापक यंत्र को चोर ले गए। मौजूदा समय में इसका एक प्लास्टिक खोखा ही बचा है। बीते वर्ष के अक्तूबर में केंद्र सरकार के मैट्रेओरिजिकल डिपार्टमेंट ने तहसील परिसर में आटोमैटिक रेंजगेज स्टेशन स्थापित किया। जिसमें संयंत्र के साथ एक एंटीना लगाया गया जो सिग्नल प्रणाली के जरिए सीधे बारिश की सूचना विभाग को पहुंचता। लेकिन इसके लगने के कुछ ही दिन बाद इसका एंटीना तोड़कर चोर ले गए। संयंत्र को निकालने के बाद इसका लोहा निकालकर ले गए। इसकी सूचना तहसीलदार ने पुलिस के साथ मौसम विभाग को सूचना दी। यहां तक की संबंधित विभाग के अधिकारी भी जांच पड़ताल को आए। लेकिन संयंत्र ठीक नहीं हो सका है।

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Related Videos

वाराणसी में सड़क पर उतरी कांग्रेस, आरएसएस प्रमुख को बताया जहर उगलने वाला नेता

वाराणसी में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने आरएसएस और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के खिलाफ प्रदर्शन किया। प्रदर्शन कर रहे कार्यकर्ताओं ने आरएसएस प्रमुख पर जहर उगलने का आरोप लगाया।

16 नवंबर 2018

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree