विज्ञापन

अवर अभियंताओं के वेतन से काटें मरम्मत का धन

Hamirpur Updated Fri, 22 Jun 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
हमीरपुर। सूखा राहत एवं पेयजल संबंधी बैठक में डीएम बी चंद्रकला ने तीन पेयजल योजनाओं के क्षतिग्रस्त होने पर पाइप लाइनों की मरम्मत न कराने पर संबंधित अवर अभियंताओं का वेतन काटने के निर्देश दिए और सेवा पुस्तिका पर अंकन किए जाने को कहा है।
विज्ञापन

डीएम ने बैठक में हैंडपंपों, तालाबों व बिजली आपूर्ति के साथ जलापूर्ति की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि पोलिंग बूथों पर हर हालत में हैंडपंप ठीक कराए जाएं। साथ ही पाइप पेयजल योजना की व्यवस्था पूरी करने को कहा। नलकूपों की खराबी के मामले में अधिशाषी अभियंता को निर्देशित किया कि बिजली की खराबी से बंद नलकूपों की सूची विद्युत अभियंता को दें और यांत्रिक दोष से बंद नलकूप ठीक कराएं। सूख चुके तालाबों को भराने का काम शीघ्र पूरा करने को कहा। जलनिगम की समीक्षा में पाया कि 350 के सापेक्ष 131 हैंडपंप रिबोर हुए हैं। उन्होंने इन रिबोर हैंडपंपों का स्थलीय निरीक्षण कराने के निर्देश परियोजना निदेशक डीआरडीए को दिए। ग्राम बेरी व कंधौली तथा सुमेरपुर की पाइप लाइनों को सड़क बनवाने में क्षतिग्रस्त हो चुकी है। इस मामले में जलनिगम ने कोई भी कार्रवाई नहीं की है। इस पर डीएम ने कहा कि संबंधित जेईयों के वेतन से खर्च होने वाली धनराशि काटी जाए। साथ ही सेवा पुस्तिका पर भी अंकन किया जाए। बैठक में स्पष्ट किया कि कोई भी मानव व पशु पेयजल से प्रभावित न हो अन्यथा उस क्षेत्र के अधिकारी कर्मचारी के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us