विज्ञापन

मिलावटखोरी में दो लोगों पर जुर्माना

Hamirpur Updated Tue, 19 Jun 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
हमीरपुर। मिलावटखोरी के दो मामलों में अपर जिला मजिस्ट्रेट की अदालत ने दूध और घी के नमूने अधोमानक पाए जाने पर दूध विक्रेता पर 35 हजार व घी विक्रेता पर 50 हजार रुपए जुर्माना लगाया है। कोर्ट ने आरोपियों से एक पखवारे में जुर्माना धनराशि जमा करने के आदेश दिए हैं।
विज्ञापन
15 अक्तूबर 2011 को खाद्य सुरक्षा अधिकारियों का सचल दल सुमेरपुर थानाक्षेत्र के पंधरी गांव में निरीक्षण कर रहे थे। सिकहुला थाना जसपुरा जिला बांदा के ओमप्रकाश सिंह बाइक से चार केन में दूध लेकर जा रहे थे, तभी खाद्य विभाग की टीम ने दूध का नमूना भरकर जांच के लिए आगरा भेजा था। जांच में नमूना अधोमानक पाया गया। इसी तरह 14 अक्तूबर 2010 को खाद्य टीम ने मौदहा बाजार में जगदंबा ट्रेडर्स के प्रतिष्ठान से 40 किग्रा रखे घी से नमूना लेकर जांच को भेजा था। वह भी जांच में फेल निकला। नमूने फेल होने पर खाद्य सुरक्षा विभाग ने आरोपियों को कारण बताओ नोटिस जारी किया। साथ ही 2 मार्च को आरोप पत्र दिया गया। जिस पर आरोपियों ने नमूनों की दोबारा जांच के लिए अपील की। इस पर दोनों नमूने खाद्य प्रयोगशाला मैसूर भेजा गया। जहां पर दोनों नमूने फेल हो गए। इस पर अपर जिला मजिस्ट्रेट की अदालत ने प्रयोगशालाओं की जांच आख्या पर गहनता से अध्ययन किया और दूध विक्रेता ओम प्रकाश सिंह तथा घी विक्रेता जगदम्बा ट्रेडर्स के सुमित गुप्ता व जगदम्बा प्रसाद गुप्ता को दोषी माना। अदालत ने दूध विक्रेता पर 35 हजार व घी विक्रेता पर 50 हजार का जुर्माना ठोका। अदालत ने आदेश दिए कि अगर एक पखवारे के अंदर जुर्माना धनराशि नही जमा की गई तो भू राजस्व के तरीके से वसूली की जाएगी।

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें  
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Related Videos

तरुण संवाद: कौन हैं JNUSU के नए अध्यक्ष एन साई बालाजी

अमर उजाल के खास कार्यक्रम तरुण संवाद में JNUSU के नवनिर्वाचित अध्यक्ष एन साई बालाजी ने अपने विचार सामने रखे। खुद बालाजी ने अपनी राजनीतिक विचारधारा और देश के प्रति अपने विचारों को खुलकर रखा।

21 सितंबर 2018

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree