विज्ञापन

कर्ज में डूबे किसान ने फांसी लगाई

Hamirpur Updated Tue, 19 Jun 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
राठ(हमीरपुर)।तीन साल से फसल अच्छी न होने और बैंक का कर्ज न चुका पाने से परेशान एक किसान ने पेड़ पर फांसी लगाकर आत्म हत्या कर ली। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराया है।
विज्ञापन

कोतवाली क्षेत्र के बरदा गांव निवासी किसान हरीराम (62) खेत में घर बनाकर गन्ने की फसल की रखवाली करता था। परिजन सुबह और शाम खेत पर ही उसे खाना देने जाते थे। सोमवार की सुबह करीब 10 बजे गांव के रूपसिंह की नजर खेत में लगे आंवला के पेड़ पर लटके एक अधेड़ पर पडी तो घबरा गया। उसके चिल्लाने पर खेतों में काम कर रहे किसानों ने परिजनों को खबर दी। मृतक के पुत्र छत्रपाल ने बताया कि वह दो भाई हैं। पिता के नाम करीब चालीस बीघा जमीन है। उसके पिता ने करीब दो साल पहले इलाहाबाद बैंक से 45 हजार रूपए और भारतीय स्टेट बैंक कृषि विकास शाखा से 1 लाख 95 हजार रूपए का खेती के लिए ऋण लिया था। पिछले तीन सालों से अच्छी फसल न होने के कारण पिता बैंक का कर्ज चुकता नहीं कर पा रहे थे। जिससे वह बेहद परेशान रहने लगे थे।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us