विज्ञापन

पीसीएफ के दस केंद्रों पर गेहूं खरीद बंद

Hamirpur Updated Sat, 16 Jun 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
हमीरपुर। गेहूं क्रय केंद्रों पर बारदाना के अभाव में गेहूं खरीद प्रभावित हो रही है। पीसीएफ के 10 क्रय केंद्रों पर खरीद का काम बंद है। वहीं 16 केंद्रों पर कुल 10074 बोरे ही शेष बचे हैं।
विज्ञापन

समर्थन मूल्य योजना के तहत पीसीएफ के 16 केंद्रों में अब तक 15852 मीट्रिक टन गेहूं खरीदा गया है। जो इस संस्था के लक्ष्य से 4 हजार 852 एमटी अधिक है। इधर, गेहूं बेचने के लिए किसान परेशान हैं, लेकिन पीसीएफ केंद्रों में बोरों का अभाव होने से खरीद का काम ठप जैसा है। 15 जून को सिर्फ छह केंद्रों पर 74 एमटी गेहूं खरीदा जा सका। क्षेत्रीय सहकारी समिति राठ में 1114 एमटी गेहूं खरीदा गया है। जबकि इस केंद्र को मात्र 500 एमटी गेहूं खरीदने का लक्ष्य दिया गया है। राठ के पीसीएफ केंद्र में 581 बोरे बचे हैं। ऐसे मेें इस केंद्र ने गुरुवार को 10 एमटी गेहूं की तौल कराई है। पीसीएफ केंद्र मुस्करा के क्रय केंद्र में सिर्फ 285 बोरे ही बचे हैं। इस केंद्र ने खरीद का काम बंद कर दिया है। क्रय विक्रय केंद्र मौदहा में 61 बोरे शेष हैं। इसके चलते खरीद कर पाना संभव नहीं है। पीसीएफ मौदहा में 152, पीसीएफ छानी में 141, पीसीएफ सुमेरपुर में 1106, क्रय विक्रय सुमेरपुर में 2729, क्रय विक्रय इंगोहटा में 28, पीसीएफ कुरारा में 1030, सहकारी समिति सरीला में 64, साधन सहकारी समिति जलालपुर में 673, एफएसएस गोहांड में 409, पीसीएफ गोहांड में 1164, साधन सहकारी समिति मिश्रीपुर में 574 व क्रय विक्रय राठ केंद्र पर 627 बोरे बचे हैं। कुल मिलाकर पीसीएफ के सभी 16 केंद्रों पर मात्र 10074 बोरे शेष हैं। ऐसे में गेहूं की खरीद प्रभावित होना स्वाभाविक है। गेहूं खरीद का काम कर रही इस संस्था ने मिले 11000 के लक्ष्य को पार करते हुए अब तक 15852 एमटी गेहूं की खरीद कर ली है।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us