विज्ञापन

नूरे शहीद बाबा का तीन दिवसीय उर्स शुरू

Hamirpur Updated Thu, 14 Jun 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
हमीरपुर। आपसी सौहार्द की मिशाल रहे हजरत नूरे शहीद बाबा की मजार पर तीन दिवसीय उर्स शुरू हो गया है। पहले दिन अकीदतमंदों ने मजार पर चादर पोशी कर अपनी गुलामी के सबूत पेश किए। उर्स में हिंदू मुस्लिम वर्ग के लोगों ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया। वहीं रात में कव्वालियों का जियारत मंदों ने लुफ्त उठाया।
विज्ञापन

बीते वर्षों की भांति इस साल भी खालेपुरा में स्थित हजरत नूरे शहीद बाबा का तीन दिवसीय उर्स मंगलवार को शुरू हुआ। बाबा साहब की मजार में हिंदू व मुस्लिमों ने मिलजुल कर चादर पोशी की और देश व दुनिया में अमन चैन के लिए दुआ की। इस मौके पर बाबा की याद में कव्वालियों का भी आयोजन किया गया। जिसमें गायको ने बाबा की तारीफ में जिस अंदाज में कव्वालियों की शुरूआत की तो अकीदतमंद झूम उठे। चादर पोशी के दौरान रज्जाक कुरैशी, ताहिर कुरैशी, नासिर कुरैशी, जमालुद्दीन मल्लू, लल्लूराम सैनी, अरूण कुमार सैनी, संतोष धुरिया, बीरेंद्र कुमार सैनी, शंकर लाल सविता, सौरभ शिवहरे, रवि लखेरे, अनुराग सैनी, राजेश चौरासिया, विकास सैनी आदि मौजूद रहे।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us