विज्ञापन

खाद्य टीम के छापों से दुकानों के शटर बंद

Hamirpur Updated Thu, 14 Jun 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
राठ(हमीरपुर)। मिलावटी और सड़े-गले खाद्य पदार्थों की बिक्री पर रोक लगाने के लिए बुधवार को खाद्य सुरक्षा टीम ने दुकानों पर ताबड़तोड़ छापे मारे। छापे पड़ने की खबर से बाजार में धड़ाधड़ शटर गिरने लगे और व्यापारी मौके से गायब हो गए। टीम के सदस्यों ने चार दुकानों पर छापा मारकर नमूने भरे। दूसरी ओर टीम ने मिठाई की दुकानों पर लगी सड़ी गली मिठाइयां सड़क पर फिंकवा दी। इसके अलावा एक होटल में बासी मीट व सड़ी मछली सड़क पर फिंकवा दी। वहीं ड्रग इंस्पेक्टर ने भी कसबे के दो मेडिकल स्टोरों से दवाओं के नमूने लिए। टीम की इस कार्यवाही से दुकानदार दुकानें बंद कर भाग गए।
विज्ञापन

बुधवार की दोपहर जिला अभिहीत अधिकारी दिनेश चन्द्र के नेतृत्व में खाद्य सुरक्षा टीम के रविन्द्र परमार, बीएन कटियार, राजीव बिंदल औषधि निरीक्षक ने सबसे पहले उरई बस स्टैंड स्थित शंकर लाल कुशवाहा की मिठाई की दुकान पर पहुंचे और बर्फी का नमूना भरा। दुकान की बाकी सड़ी गली मिठाइयों को फिंकवा दिया। सड़ी मिठाइयां रखने के आरोप में टीम ने लाइसेंस निरस्त करने की कार्यवाही की। इसके बाद टीम ने पड़ाव स्थित गीताजंलि लस्सी भंडार की दुकान से घी का नमूना भरा। खाद्य अधिकारी ने बताया कि दुकानदार का लाइसेंस न होने पर घी का मुकदमा दर्ज होगा। बगल में लक्ष्मी लस्सी की दुकान से लस्सी का नमूना लिया गया। इसके अलावा रोडवेज बस स्टैंड के नजदीक स्थित सीके होटल पर छापा मारा और सड़ी मछली और मुर्गा का सड़ा मांस नष्ट करवाया। लाइसेंस न होने पर नोटिस दी। टीम ने रामलीला मैदान पहुंच गुडडू अग्रवाल की मिठाई की दुकान पर रखी खराब मिठाइयों को नष्ट करवाया और नमूना भर कर सील किया। इसके अलावा सडे़ फल, पानी के पाउच भी फिंकवाये। खाद्य अधिकारी रविन्द्र सिंह परमार ने बताया कि फल, मीट और एफपीओ से संबंधित दुकानदार 5 अगस्त से पहले अपना लाइसेंस बनवा लें। ड्रग इंस्पेक्टर राजीव बिंदल ने उरई बस स्टैंड़ प्रजापति मेडिकल स्टोर पर छापा मार एंटीडायरियल सीरप और पारस मेडिकल स्टोर से एनाजेसिक टेबलेट का नमूना लिया।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us