आंधी-तूफान और ओलावृष्टि से बर्बाद 4144 किसानों के लिए दो करोड़ मांगे

Hamirpur Updated Fri, 08 Jun 2012 12:00 PM IST
हमीरपुर। दो माह पहले आंधी/तूफान से बर्बाद हुए किसानों के लिए दो करोड़ रुपए की राहत मांगी गई है। क्षतिपूर्ति के आकलन में 14.58 करोड़ रुपए की फसलों का नुकसान हुआ। इस प्राकृतिक कहर में दो लोगों की मौत और तीन लोग घायल हुए थे जबकि आठ मवेशी काल के गाल में समा गए थे। राजस्व विभाग ने इस आपदा से 4144 प्रभावित किसानों को दैवी आपदा राशि देने के लिए 2 करोड़ रुपए की धनराशि मांगी है।
12 अप्रैल को आंधी तूफान और ओलावृष्टि होने से किसान बर्बाद हो गए थे। जहां सरीला के हरसुंडी गांव में बिजली गिरने से किसान रामसहोदर की मौत हो गई वहीं उसकी भाभी शीला पत्नी मनोज गंभीर रूप से घायल हो गई। सदर तहसील के लहरा गांव में श्यामकुंवर पत्नी शिवशंकर की भी गाज गिरने में मौत हो गई। जिले में 17 लोग बेघर हो गए थे। इसमें 9.89 लाख की क्षति हुई। मौदहा तहसील में 2097.210 हेक्टेयर में खड़ी गेहूं की फसल नष्ट हुई। इसमें 256.38 लाख की क्षति किसानों को उठानी पड़ी। इस तहसील क्षेत्र के बिगहना, मांचा, चकदहा, गुहरिया, खैर, परछा, सिजनौड़ा, सिचौली, सिलौली, कम्हरिया, गहरौली, छिबौली, मदारपुर, भभौरा में भारी नुकसान हुआ। जबकि मौदहा, गुरदहा, करहिया, उरदना का भाग भूभाग आंधी तूफान व ओलावृष्टि की चपेट में आ गया। तहसील राठ में 10 से लेकर 40 प्रतिशत तक फसलों की क्षति हुई है। इसमें करीब 15 लाख का नुकसान हुआ है। मगर शासनादेश के तहत 50 फीसदी से ऊपर का नुकसान होने पर दैवी आपदा राहत दिए जाने से हुए नुकसान की भरपाई नहीं हो सकेगी। तहसील सरीला में 16 मकान धराशाई हो गए। 101 ग्रामों में 4.040 परिवार प्रभावित हुए। यहां की 4.968 हेक्टेयर की फसलें नष्ट हुई है। राजस्व विभाग ने इस तहसील में 1186.85 लाख के नुकसान होना बताया। कुल मिलाकर 1458.23 लाख की क्षति हुई है। अपर जिलाधिकारी एचजीएस पुंडीर ने कहा कि बिजली गिरने से हुई मौतों पर दैवी आपदा राशि दे दी गई है। दैवी आपदा के तहत 25 लाख की धनराशि तहसीलों को भेजी जा चुकी है। जिले की दो तहसीलों मौदहा और सरीला के 58 गांवों के 4144 किसान प्रभावित हुए है।

Spotlight

Related Videos

सीएम योगी का ‘योग अंदाज’ समेत 5 बड़ी खबरें

अमर उजाला टीवी पर देश-दुनिया की राजनीति, खेल, क्राइम, सिनेमा, फैशन और धर्म से जुड़ी से जुड़ी खबरें। देखिए LIVE BULLETINS - सुबह 7 बजे, सुबह 9 बजे, 11 बजे, दोपहर 1 बजे, दोपहर 3 बजे, शाम 5 बजे और शाम 7 बजे।

21 जून 2018

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen