पीसीएफ केंद्र बंद होने से बढ़ी दुश्वारियां

Hamirpur Updated Thu, 07 Jun 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
हमीरपुर। सुमेरपुर विकासखंड क्षेत्र के सुरौली, पचखुरा व मुंडेरा के किसानों ने गेहूं खरीद न होने पर डीएम को ज्ञापन दिया है। किसानाें ने पीसीएफ केंद्र में खरीद कराने की मांग की है।
विज्ञापन

किसान उपेंद्र कुमार, बरदानी, श्रीपाल, बलवान सिंह ने डीएम से बताया कि सुमेरपुर मंडी समिति में संचालित गेहूं खरीद केंद्र पीसीएफ में उनका गेहूं 18 मई से पड़ा है। लेकिन बारदाना का अभाव बताकर खरीद नहीं की जा रही है। साथ ही पीसीएफ केंद्र को बंद किया जा रहा है। किसानों ने मांग की है कि केंद्र में गेहूं खरीद का कार्य फिर से शुरू कराया जाए। नहीं तो वह लोग 8 जून से आमरण अनशन करने को बाध्य हाेंगे।
गेहूं खरीद से हटाए ड्यूटी
हमीरपुर। उप्र लेखपाल संघ ने समस्याओं को लेकर तहसील सभागार में बैठक कर गेहूं खरीद से ड्यूटी हटाने, जीपीएफ की वार्षिक लेखा पर्ची मुहैया कराने सहित अन्य मांगों को रखा।
स्थानीय तहसील सभागार में उप्र लेखपाल संघ की बैठक तहसील अध्यक्ष जितेंद्र सिंह की अध्यक्षता में हुई। उन्होंने कहा कि कार्य की व्यस्तता से लेखपालों की ड्यूटी गेहूं खरीद केंद्राें से हटाई जाए। शासनादेश 2011 के क्रम में संशोधित पुनरीक्षित वेतनमान का बकाया दिलाने, एक मई 2012 को जारी शासनादेश के अनुसार वेतनवृद्धि का लाभ दिलाने, जीपीएफ की वार्षिक लेखापर्ची मुहैया कराने सहित पत्यौरा लेखपाल रामकुमार सोनी के मामले को उठाया है। इस मौके पर रामकुमार सोनी, प्रदीप कुमार तिवारी, बीरेंद्र कुशवाहा, जगदीश बाबू, जगदेव प्रसाद, रमेश निषाद, अवध बिहारी सहित अन्य लेखपाल मौजूद रहे। संचालन सुनील कुमार विश्वकर्मा ने किया।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us