पंचायत सदस्यों ने प्रधान के खिलाफ खोला मोर्चा

Hamirpur Updated Wed, 06 Jun 2012 12:00 PM IST
हमीरपुर। विकासखंड सरीला के ग्राम पंचायत भेड़ीडांडा में विकास कार्य नहीं कराने का आरोप ग्राम पंचायत के नौ सदस्यों ने लगाया है। सदस्यों ने मंगलवार को जिलाधिकारी को शपथ पत्र देकर मनरेगा में अपने ही परिवार के सदस्यों के जॉबकार्ड बनवाकर रुपए निकालने का आरोप लगाया है। सदस्यों ने प्रधान पर अविश्वास जताते हुए कराए गए कार्यों की जांच कराने और वित्तीय अधिकार सीज करने की मांग की है।
भेड़ी निवासी हरी सिंह, रामकरन, प्रताप, हबीब, परमेश्वरीदीन, कुसमा, फूलवती, रानी, राजेश कुमार ने जिलाधिकारी को दिए शपथ पत्र में कहा कि उनकी ग्राम पंचायत में प्रधान शिवकुमार द्विवेदी ने कभी ग्राम पंचायत की बैठक नहीं बुलाई है। हलफनामे में ग्राम पंचायत के विकास को आई लाखों की धनराशि का जमकर दुरुपयोग करने को कहा है। मनरेगा की धनराशि को फर्जी कार्य दिखाकर भुगतान निकाला गया है। प्रधान पर अपने भाइयों व उनकी पत्नियों तथा माता पिता के नाम से जॉब कार्ड बनवाकर भुगतान निकाला गया है। सदस्यों का कहना है कि शौचालय के नाम पर भी प्रधान ने धांधली की है। पहले से निर्मित शौचालयों को नया दर्शाकर गड़बड़ी की गई है। साथ ही आरोप लगाया कि प्रत्येक लाभार्थी को 3200 रुपए का भुगतान दिया जाना है लेकिन प्रधान ने लाभार्थियों को 1500 रुपए ही भुगतान किया है।

Spotlight

Related Videos

हॉस्पिटल में मरीज की मौत के बाद हंगामा, इस वजह से देर से पहुंची कानपुर पुलिस

यूपी के कानपुर में इलाज के दौरान लापरवाही की वजह से एक व्यक्ति की मौत का मामला सामने आया है। मृतक के परिजनों ने आरोप लगाया है कि इलाज के दौरान गलत इंजेक्शन लगाने की वजह से उनकी मौत हुई।

19 फरवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Switch to Amarujala.com App

Get Lightning Fast Experience

Click On Add to Home Screen