विज्ञापन

संत न होते जगत में तो जल मरता संसार

Hamirpur Updated Mon, 04 Jun 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
हमीरपुर। आग लगी आकाश में झर झर झरे अंगार, संत न होते जगत में तो जल मरता संसार। अर्थात आज संसार की यही हालत है कि लोगों की जुबान से आग बरस रही है, मीठी वाणी, प्यार की भाषा का अभाव हो गया है। जिसको देखो वहीं अपने स्वार्थ के कारण कटु वचनों का प्रयोग किए जा रहा है।
विज्ञापन
यह बात रविवार को संत निरंकारी सत्संग भवन में आयोजित सत्संग कार्यक्रम में बहन वंदना निरंकारी ने कही। उन्होंने कहा कि लोगों के जीवन से प्रीति, प्यार, नम्रता व सहनशीलता जैसे विशेष गुण निकल गए है। उनकी जगह घृणा, द्वेष, बैर, बुराई, अमीर, गरीब व ऊंच-नीच के भाव भर गए है। जिसके कारण न तो वह स्वयं चैन से जी रहा है और न ही दूसरों को जीने दे रहा है। आदमी आदमी को ही नही देखना पसंद करता है। एक संत ही ऐसे है जो प्यार, नम्रता व सहनशीलता जैसे विशेष गुणों के कारण समाज में शांति कायम किए है तथा दूसरों को भी भक्ति भाव से जोड़कर उनके अंदर भी मानवीय गुण भरते रहते है। इस मौके पर महात्मा गयादीन, शशि, राधा गुप्ता, रामदुलारी, शोभा, राजबहादुर, शिवकुमार सेट्टी, श्रुतिकीर्ति सचान, अनूपा, रामलाल, रामकृष्ण सहित सैकड़ो श्रद्धालु मौजूद रहे। इस मौके पर निरंकारी प्रमुख क्रांतिकुमार निरंकारी, चरन सिंह व माता रानीदेवी ने प्रवचन किए।

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Related Videos

बूंदी से कांग्रेस प्रत्याशी हरिमोहन शर्मा का EXCLUSIVE इंटरव्यू

बूंदी से कांग्रेस के टिकट पर हरिमोहन शर्मा चुनाव मैदान में हैं। हरिमोहन शर्मा से बातचीत की अमर उजाला डॉट कॉम की संवाददाता अभिलाषा पाठक ने। देखिए हरिओम शर्मा का EXCLUSIVE इंटरव्यू। 

18 नवंबर 2018

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree