नामांकन जुलूस को पुलिस ने रोका

Hamirpur Updated Sun, 03 Jun 2012 12:00 PM IST
हमीरपुर। स्थानीय निकाय चुनाव में जिला प्रशासन की सख्ती के चलते प्रत्याशियों के समर्थकों से नोकझोंक हुई। पुलिस ने तहसील परिसर के आसपास जुलूसों को फटकने नहीं दिया। हालांकि कई स्थानों पर जुलूस रोकने में पुलिस लाचार दिखी। सख्ती के चलते प्रत्याशियों और पुलिस में बहस हुई। कथित सपा समर्थकों के जुलूस कोे रोकने पर पुलिस से तीखी नोकझोंक हुई। प्रशासन ने भाजपा के जुलूस को नहीं निकलने दिया।
नगर निकाय चुनाव के नामांकन के आखिरी दिन जिला प्रशासन आदर्श आचार संहिता का पालन कराने के लिए पूरी तरह से मुस्तैद रहा। बिना अनुमति के नामांकन जुलूस निकाले जाने पर पुलिस बल प्रयोग कर जुलूसों को तितर बितर कर दिया। इसके चलते प्रत्याशी व समर्थकाें का पुलिस के साथ वाद विवाद हुआ। कई प्रत्याशी सपा समर्थक के रूप में लोहिया वाहिनी की लाल टोपी लगाकर जुलूस निकालते हुए नामांकन कराने जा रहे थे। जुलूस को बस स्टैंड के पास रोक दिया गया। पुलिस ने नामांकन के लिए सिर्फ पांच लोगों को जाने दिया। इसी तरह भाजपा प्रत्याशियों के जुलूस पर पुलिस की नजर रही। जहां भी भाजपाई भीड़ के रूप में दिखे उन्हें वहां से हटाया गया।

Spotlight

Related Videos

15 साल पहले जिस जेल में आजाद बनाएं गए कैदी वहां सीएम योगी ने पहुंचे किया ये

वाराणसी सेंट्रल जेल में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने क्रांतिकारी चंद्रशेखर आजाद की प्रतिमा का अनावरण किया। बता दें कि 15 साल की उम्र में चंद्रशेखर आजाद को अंग्रेजों ने इसी जेल में कैदी बनाया था।

20 मई 2018

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen