विज्ञापन

पूर्व प्रधानमंत्री की पुण्यतिथि पर रक्तदान किया

Hamirpur Updated Tue, 22 May 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
हमीरपुर। भारत रत्न स्व.राजीव गांधी की 21वीं पुण्यतिथि के मौके पर कांग्रेसियों ने सदर अस्पताल में रक्तदान किया। कार्यकर्ताओं ने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के चित्र में पुष्प चढ़ाकर श्रद्धांजलि दी।
विज्ञापन
वरिष्ठ कांग्रेस नेता पूर्व जिलाध्यक्ष ओमप्रकाश शिवहरे ने राजीव गांधी को संचार क्रांति का अग्रदूत बताया। उन्होंने कहा कि आगामी स्थानीय निकाय चुनाव में विधानसभा चुनाव के दौरान की गई गलतियाें की पुनरावृत्ति न होने दें। जातियों का बंधन तोड़कर समता मूलक समाज की धारणा को लेकर चुनाव लड़ें। इस मौके पर पार्टी नेता केशव बाबू शिवहरे ने कहा कि जिस विषम परिस्थितियों में स्व. राजीव गांधी ने देश की जिम्मेदारी संभाली। उस पर समूचा विपक्ष उन्हें अनुभवहीन प्रधानमंत्री कह रहा था। जबसे पंचायती राज प्रणाली राजीव गांधी ने लागू कराई तो गांधीजी का ग्रामीण स्वराज की परिकल्पना को बल मिला। इस मौके पर राजेंद्र वीर सिंह चौहान, रत्ना यादव, डा.योगेंद्र सचान, पूर्व अध्यक्ष जगदीश शंखवार, पप्पू परिहार, बंशी मनोहर गुप्ता, गोविंद अहिरवार, प्रेमचंद्र निषाद, राकेश कुमार मिश्रा, गंगाप्रसाद कुशवाहा, कालूराम निषाद, पन्नालाल राजपूत सहित तमाम कार्यकर्ता मौजूद रहे। उधर एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष दीपक चक्रवर्ती की अगुवाई में नरेंद्र प्रजापति व हरिकिशन वर्मा ने सदर अस्पताल में रक्तदान किया। वहीं 28 युवकों ने रजिस्ट्रेशन कराया।
उधर राठ में पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के 22वें निर्वाण दिवस पर कांग्रेसियों ने पूर्व मंत्री चौधरी राजेंद्र सिंह के आवास पर बैठक कर राजीव गांधी के चित्र पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि दी। इस मौके पर कार्यकर्ताओं ने दो मिनट का मौन रखा। बैठक से पूर्व कार्यकर्ताओं के साथ विधायक गयादीन अनुरागी ने सरकारी अस्पताल पहुंचकर रोगियों को फल बांटे। इस मौके पर रामनाथ सिंह, अब्ुदल जब्बार, सुरेंद्र भटनागर, चन्द्रपाल कौशल, कबीर अंसारी, दुष्यंत लोधी, शफीक राईन, मुन्नी लाल वर्मा, अबरार अहमदी, प्रमोद बजाज, बलराम दादी, हरीराम कुशवाहा मौजूद रहे।
सरीला प्रतिनिधि के अनुसार नगर में कांग्रेसियों ने बैठककर पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की पुण्य तिथि पर विधानसभा क्षेत्र अध्यक्ष अरविंद कुमार राजपूत ने उनके व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर प्रकाश डाला। बैठक में हरदयाल, लखन अनुरागी, अरुण राजपूत, श्रीराम राजपूत, रामकिशन साहू, दुर्जन कुशवाहा मौजूद रहे।

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें  
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Related Videos

अनुराग कश्यप हुए ब्लैकलिस्ट, देखिए करियर की 5 सबसे बड़ी कंट्रोवर्सियां..!

अनुराग कश्यप के सितारे इन दिनों गर्दिश में हैं। फैंटम प्रोडक्शन हाउस की अंदरूनी सियासत से बाहर निकलने के लिए उन्होंने फिल्म प्रोड्यूसर आनंद एल राय का दामन थामा था, लेकिन वहां भी पंगा हो गया है। देखिए अनुराग कश्यप के करियर के पांच सबसे बड़े विवाद।

25 सितंबर 2018

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree