बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW

नीलामी चबूतरे के पास बोरे देख गुस्साए एडीएम

Hamirpur Updated Sat, 19 May 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

भरूआसुमेरपुर (हमीरपुर)। कसबे के मंडी समिति में गेहूं खरीद एवं भंडारण का जायजा लेने अपर जिलाधिकारी/ जिला गेहूं खरीद अधिकारी पहुंचे। उन्होंने नीलामी चबूतरो के पास व्यापारियों के बोरे लगे होने से नाराजगी जताई और मंडी कर्मियों को कड़ी फटकार लगाते हुए तत्काल बोरे हटवाए जाने के निर्देश दिए।
विज्ञापन

शुक्रवार को शाम करीब 6 बजे अपर जिलाधिकारी एचजीएस पुंडीर, उपजिलाधिकारी सदर रामबीर सिंह एफसीआई द्वारा कराए जा रहे भंडारण कार्य का निरीक्षण करने पहुंचे। इस मौके पर एफसीआई के प्रभारी रामेश्वर व कर्मचारी मुरलीधर, जगमोहन आदि ने बताया कि नीलामी चबूतरों के नीचे व आसपास व्यापारियों के बोरे रखे होने से ट्रको को लगवाने में दिक्कते आ रही है। इस पर एडीएम ने मंडी कर्मियों को फटकार लगाते हुए तत्काल बोरे हटवाए जाने के निर्देश दिए। कहा कि अगर शनिवार की सुबह चबूतरो के आसपास बोरे नजर आए तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। गौरतलब हो कि नीलामी चबूतरों के खाली न कराए जाने पर जिलाधिकारी ने मंडी सचिव के खिलाफ सख्त कार्रवाई कर चुकी है। मंडी सचिव के खिलाफ कार्रवाई होने पर व्यापारियों ने अपने बोरे चबूतरों से हटाकर सड़क पर नीचे रख लिए है। जिससे भंडारण करने में ट्रक लगाने में परेशानी आ रही है। उधर किसानों ने पीसीएफ केंद्र में गेहूं खरीद न किए जाने की शिकायत की गई। इस पर अपर जिलाधिकारी ने कहा कि वहां का लक्ष्य पूरा हो चुका है। अब केवल 50 कुंतल तक लाने वाले छोटे किसानों की ही तौल कराई जाएगी। जबकि पीसीएफ केंद्र के प्रभारी ने बताया कि बारदाना न होने के चलते खरीद बंद पड़ी हुई है।

गेहूं के ढेर लगाने का विरोध किया
हमीरपुर। सुमेरपुर राशन गोदाम के प्रभारी ने गोदाम के सामने किसानों द्वारा गेहूं के ढेर लगा दिए जाने से पीडीएस के कार्य में व्यवधान उत्पन्न किए जाने की शिकायत की है। सुमेरपुर पीडीएस गोदाम प्रभारी भूपेंद्र कुशवाहा ने उप जिलाधिकारी सदर रामबीर सिंह को प्रार्थना पत्र देते हुए अवगत कराया कि गेहूं खरीद के चलते कुछ किसान गोदाम के सामने गेहूं के ढेर लगाकर पीडीएस के कार्य में व्यवधान उत्पन्न कर रहे है। गेहूं के ढेर लगे होने के चलते खाद्यान्न से भरे ट्रको को गोदाम तक पहुंचने में कठिनाई हो रही है। मना करने पर किसान झगड़ा फंसाद करने को आमादा रहते है। बताया कि 23 मई से खाद्यान्न उठान शुरू होगा अगर गेहूं के ढेर डालना बंद नही किया जाता तो राशन वितरण में भी परेशानी होगी। गोदाम प्रभारी ने सुरक्षा व्यवस्था के लिए पुलिस फोर्स की मांग की है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us