विज्ञापन

18 जोड़े वरमाला डालकर बने हमसफर

Hamirpur Updated Sat, 19 May 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
श्यामला मंदिर में गायत्री परिजनों ने कराए विवाह संस्कार
विज्ञापन

राठ(हमीरपुर)। क्षेत्र के सरसई मौजा में स्थित श्यामला देवी मंदिर में मां श्यामला देवी समाज कल्याण समिति के सर्वजातीय सामूहिक विवाह महायज्ञ में 18 जोड़ों ने एक दूजे के गले में वरमाला डालकर जीवनसाथी चुना। गायत्री परिजनोें ने विधिविधान से विवाह संस्कार संपन्न कराए।
शुक्रवार की सुबह करीब आठ बजे से विवाह महायज्ञ की शुरूआत हुई। विवाह महायज्ञ में पहली वरमाला चिल्ली गांव की अनीता ने धमना गांव के प्रवेश कुमार के गले में डाल विवाह महायज्ञ की शुरूआत की। इसके बाद बहगांव की ललिता देवी ने चिल्ली के सुनील कुमार, रीता करौंदी ने खलक सिंह औंता, आरती तुरना ने शुभेंद्र सिंह धमना, हेमा कनकुआ ने बालकृष्ण बपरेथा, रीमा बिलगांव ने राजेश कुल्हैंडा, सतभामा बिहर ने दिनेश जखेड़ी, अर्चना धमना ने महेंद्र गहरौली, शीतु औंता ने खलक इंदरपुरा, अर्चना टोला राठ ने निर्दोष चिल्ली, रामजानकी पवई ने हरिओम औंता, पिंकी बडेरा ने जीतेंद्र सरसई, संध्या बसवारी ने तेजसिंह चंदौली, संजय कुल्हैंडा ने सुरेश कुड़ार, पुष्पा बंडवा ने मुकेश इटौरा, अंगूरी महेरा ने बिलेशी लौहारी, नीता ददरी ने ओमप्रकाश अंडवारा और स्वांसा हमीरपुर की संगीता ने नरेश बंडवा के गले में वर माला डाल अपना हमसफर बनाया। दोपहर में गायत्री पीठ के ट्रस्टी पंडित चन्द्रशेखर मिश्रा, लक्ष्मी प्रसाद, अर्जुन सिंह, रामप्रकाश, भगवानदीन, फूलसिंह ने सभी वर वधुओं का पूरे विधि विधान और मंत्रोच्चार के साथ विवाह संस्कार संपन्न कराये। विवाह समारोह में समिति के पदाधिकारियों और ऊं साईं राम समिति के लोगों ने नव दांपत्य जीवन सुखमय होने की कामना करते हुए आर्शीवाद दिया। विदाई के वक्त समिति ने कन्या को उपहार भेंट किए। इस मौके पर समिति के प्रबंधक श्रीराम औंता, ब्रजभान सिंह औंता, मलखान सिंह राजपूत, प्रभुदास गुप्ता, बृजेंद्र कुमार, श्रीकांत सोनी सहित सैकड़ों महिलाएं एवं पुरूष रहे।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us