मुकदमा वापस लेने का दबाव

Hamirpur Updated Sat, 19 May 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

हमीरपुर। राठ विधायक के विरुद्ध जान से मारने की धमकी देने का मुकदमा दर्ज होने पर कांग्रेसियों ने इसे साजिश बताया है। कांग्रेसियों ने एडीएम को ज्ञापन सौंप विधायक पर लगा मुकदमा एक हफ्ते के अंदर वापस किए जाने की मांग की। मुकदमा वापस न होने पर जाम व धरना प्रदर्शन करने की चेतावनी दी।
विज्ञापन

कुरारा कसबा निवासी एवं पीसीसी सदस्य आशारानी कबीर ने राठ विधायक पर मोबाइल फोन पर धमकाने का आरोप लगाया। लेकिन विधायक पर कोई कार्रवाई न होने पर महिला ने आमरण अनशन शुरू कर दिया। इस पर प्रशासन ने पीसीसी सदस्य की तहरीर पर राठ विधायक के खिलाफ जान से मारने की धमकी दिए जाने की धाराओं पर मुकदमा दर्ज कर लिया।
विधायक पर मुकदमा दर्ज होने पर जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष प्रेमचंद्र निषाद के नेतृत्व में नगर अध्यक्ष लक्ष्मीकांत त्रिपाठी, संतोष कुमारी, एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष दीपक चक्रवर्ती सहित अन्य कार्यकर्ताओं ने एडीएम एचजीएस पुंडीर को ज्ञापन देकर मुकदमा वापस लिए जाने की मांग की है। कहा कि महिला द्वारा विधायक तथा पार्टी की छवि को धूमिल करने का कुचक्र रचा जा रहा है। पार्टी ने मुकदमा दर्ज होने पर महिला के इस कार्य की कटु आलोचना की।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us