चबूतरा खाली न कराने में सचिव पर गिरी गाज

Hamirpur Updated Thu, 17 May 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
भरुआसुमेरपुर (हमीरपुर)। मंडी समिति में नीलामी चबूतरे खाली नहीं किए जाने का खामियाजा मंडी सचिव को भुगतना पड़ा है। व्यापारियों को नोटिस देने के बाद भी व्यापारियों ने चबूतरों से गेहूं नहीं हटाया, जिसकी गाज मंडी सचिव पर गिरी। बुधवार को निरीक्षण करने पहुंची जिलाधिकारी बी चंद्रकला ने सचिव को पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस ने सचिव के खिलाफ शांतिभंग की कार्रवाई कर चालान किया है।
विज्ञापन

स्थानीय मंडी समिति के नीलामी चबूतराें में भारतीय खाद्य निगम द्वारा गेहूं भंडारण किए जाने के लिए मांग की गई। इस पर प्रशासन ने चबूतरों पर कब्जा जमाए व्यापारियों को वहां से बोरे हटाने के निर्देश दिए थे, साथ ही मंडी सचिव श्यामलाल वर्मा ने चबूतरों को तत्काल खाली करने के लिए व्यापारियों को नोटिस जारी किया था। लेकिन दबंग व्यापारियों ने चबूतरों को खाली नहीं किया। इसका खामियाजा बुधवार को मंडी सचिव को भुगतना पड़ा। मौदहा क्षेत्र के अग्निपीड़ित गांव पिपरौंदा जा रही जिलाधिकारी बी चंद्रकला ने मंडी समिति में आकर औचक निरीक्षण किया। जहां उन्हाेंने एक चबूतरे पर भारतीय खाद्य निगम द्वारा भंडारण किए जाने का जायजा लिया। वहीं अन्य तीन चबूतरे न खाली करा पाने पर उन्होंने मंडी सचिव को पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस ने मंडी सचिव के खिलाफ शांतिभंग की कार्रवाई करते हुए चालान कर दिया। डीएम के निर्देश पर तहसीलदार रंजीत कुमार ने सचिव ने खिलाफ 188, 409 आईपीसी एवं धारा 3 के लोकसंपत्ति निवारण अधिनियम के अनुपालन न कराए जाने पर रिपोर्ट दर्ज कराई है।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us