विरोध में नारे लगा किया प्रदर्शन

Hamirpur Updated Sat, 12 May 2012 12:00 PM IST
पंद्रह दिन से बिजली की अघोषित कटौती से अधिवक्ता आक्रोशित
हमीरपुर। बीते पंद्रह दिन से की जा रही बिजली की अघोषित कटौती के विरोध में आक्रोशित अधिवक्ताओं ने पहले पावर कारपोरेशन के खिलाफ नारे लगाए फिर डीएम के पास पहुंचे। अधिवक्ताओं ने रोस्टर के हिसाब से 20 घंटे बिजली देने के साथ रात की कटौती बंद किए जाने की बात रखी। इस पर डीएम ने एसी और एक्सईएन को बुलाया और अभियंताओं की कार्यशैली में सुधार करने की हिदायत दी। डीएम कार्यालय में अधिवक्ताओं की भीड़ देख पुलिस फोर्स भी आ गया।
बिजली की अघोषित कटौती से हर वर्ग परेशान है। जैसे-जैसे तापमान बढ़ रहा है, वैसे-वैसे ही बिजली की अघोषित कटौती शुरू हो गई है। इधर 15 दिन से लोग बिन बिजली उबल रहे है तो घरों में लगे उपकरण भी चार्ज नहीं हो रहे है। उधर औद्योगिक क्षेत्र में सुमेरपुर में 24 घंटे सप्लाई दी जा रही है। बिजली की अघोषित कटौती को लेकर शुक्रवार को जिला बार संघ के अध्यक्ष कृपाशंकर सिंह व महामंत्री अजय अवस्थी के नेतृत्व में अधिवक्ता पावर कारपोरेशन के खिलाफ नारेबाजी करते डीएम कार्यालय जा धमके। अधिवक्ताओं का कहना था कि मुख्यालय में शासन से 20 घंटे बिजली सप्लाई देने के निर्देश है। लेकिन बिजली की अघोषित कटौती से जहां जनमानस परेशान है वहीं शहर की जलापूर्ति बाधित है। इस मामले को जिलाधिकारी ने गंभीरता से लेकर अधीक्षक अभियंता वीके मित्तल व अधिशाषी अभियंता नन्नू सिंह को बुलाकर दो टूक कहा कि सप्लाई नियमित करें अन्यथा वह उपभोक्ताओं का कोपभाजन बनने को तैयार रहें। इस दौरान वरिष्ठ अधिवक्ता निर्भय सिंह, वरिष्ठ उपाध्यक्ष शैलेंद्र सक्सेना, शिवप्रसाद, चंद्रप्रकाश, राजकुमार, बलवान सिंह, रामकिशन, शैलेंद्र सचान, चंद्रमौलि द्विवेदी, मथुरा प्रसाद, परशुराम, गुड्नुल हसन, हिमांशु सहित अन्य अधिवक्ता मौजूद रहे। इस दौरान सीओ पुलिस फोर्स के साथ सुरक्षा की दृष्टि से डटे रहे।

Spotlight

Related Videos

21 बच्चियों से रेप, 10 आरोपी गिरफ्तार, जानिए पूरा मामला

बिहार के मुजफ्फरपुर से दिल झिंझोड़ देने वाला मामला सामने आया है। यहां बालिका गृह में 21 बच्चियों के साथ रेप की पुष्टि हुई है। अब इस मामले में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए 10 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है।

23 जुलाई 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen