लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   ›   नगर सीट को सामान्य या पिछड़ा वर्ग घोषित करें

नगर सीट को सामान्य या पिछड़ा वर्ग घोषित करें

Hamirpur Updated Thu, 03 May 2012 12:00 PM IST
हमीरपुर। नगर निकाय के आरक्षण बदलने से सामान्य वर्ग व पिछड़े वर्ग के प्रत्याशियों में खलबली मची है। नगर पंचायत सुमेरपुर के बुंदेलखंड विकास मंच के नेतृत्व में प्रत्याशियों ने अपर जिलाधिकारी के माध्यम से निदेशक निकाय को ज्ञापन भेजा है। उधर मुख्यालय में अनुसूचित जाति की सीट को बदलकर पिछड़ी जाति महिला किए जाने पर आपत्ति दर्ज कराई है।

नगर पंचायत सुमेरपुर की सीट पिछली बसपा सरकार ने 15 जनवरी 2012 को अधिसूचना जारी करते हुए इस सीट को अनारक्षित कर दिया था लेकिन सपा की सरकार ने नगर निकाय के आरक्षण पर पुनर्विचार कर आरक्षण जारी किया जाए। जिसमें15 वर्षों से अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित सीट को पुन: अनुसूचित वर्ग के लिए आरक्षित कर दी गई है। मंच के अध्यक्ष प्रकाश बाबू गुप्ता व महामंत्री संजय त्रिपाठी ने आरोप लगाया कि जाति भेद या डिसक्रिमनेशन किया जाना न्याय संगत व औचित्यपूर्ण नही है। नगर में पिछड़ा/सामान्य वर्ग की संख्या कम नही है। मंच ने नगर की सीट को पुन: सामान्य या पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित करने की मांग की है। इस मौके पर जयकरन सिंह, श्रवण कुमार, बीरेंद्र कुमार, रामअनुराग मिश्रा मौजूद रहे। उधर स्थानीय नगर पालिका की अध्यक्ष पद की सीट को पिछड़ी जाति महिला के आरक्षित किए जाने पर नगर के मोहन लाल बाल्मीकि व राजेंद्र धमाका ने आपत्ति दर्ज कराई है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00