नौकरी गारंटी कानून बनाओ नहीं तो वोटर पेंशन दो

Hamirpur Updated Thu, 03 May 2012 12:00 PM IST
हमीरपुर। बुंदेलखंड शिक्षित/प्रशिक्षित बेरोजगार मोर्चा ने मई दिवस को शिक्षित मजदूर दिवस के रूप में मनाया। इस मौके पर बेरोजगार मोर्चा ने नौकरी गारंटी कानून बनाए जाने की मांग उठाई।
गौतम बुद्ध स्कूल में बुंदेलखंड शिक्षित/प्रशिक्षित बेरोजगार मोर्चा ने मई दिवस को शिक्षित मजदूर दिवस के रूप में मनाते हुए कहा कि भाकपा बेरोजगाराें की लड़ाई अपने बैनर से लड़ती थी। किंतु अब भाकपा भी अपने मुद्दाें से भटक गई है। शिक्षित बेरोजगारों को मई दिवस के मौके पर स्वयं हुंकार भरने के लिए मजबूर होना पड़ा। इस मौके पर मुख्यमंत्री को संबोंधित ज्ञापन भेजा। जिसमें नौकरी गारंटी कानून बनाए जाने, नौकरी न मिलने तक वोटर पेंशन देने तथा शैक्षिक योग्यता के अनुसार बेरोजगारी भत्ता देने की मांग उठाई। मोर्चा ने टीईटी प्रक्रिया को पूरी तरह से भ्रष्टाचार की कड़ी बताया और कहा कि प्रदेश में 11 लाख बीएड धारकों को जब तक समायोजित न किया जाए तब तक बीएड के प्रशिक्षण पर रोक लगाई जाए। इस मौके पर जिलाध्यक्ष दिनेश कुमार सचान, संतोष द्विवेदी, एएन मंसूरी, राममिलन प्रजापति, सलीम मंसूरी, आदिल हसन, जयकिशोर, प्रमोद कुमार मौजूद रहे।

Spotlight

Related Videos

ट्रेन से कहीं जाने की सोचने से भी पहले ये खबर जरूर देखें

हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, जम्मू-कश्मीर के कई इलाकों में बर्फबारी का असर दिल्ली-NCR समेत उत्तर भारत में दिखाई दिया।

24 जनवरी 2018