मूल्याकंन केंद्रों में पेयजल, बिजली नहीं

Hamirpur Updated Wed, 02 May 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

हमीरपुर। इलाहाबाद झांसी क्षेत्र के स्नातक विधायक डा. यज्ञदत्त शर्मा और सदर विधायक साध्वी निरंजन ज्योति ने बोर्ड परीक्षा पुस्तिकाओं के मूल्यांकन केंद्रों का दौरा किया। इस मौके पर विधायकाें ने शिक्षकाें की समस्याओं की जानकारी ली। स्नातक विधायक ने आरोप लगाया कि प्रदेश भर में मूल्यांकन कर रहे परीक्षकों को पेयजल, बिजली और बैठने की व्यवस्था तक नहीं है।
विज्ञापन

मंगलवार को स्नातक विधायक डा.यज्ञदत्त शर्मा ने मुख्यालय में स्थित दो मूल्यांकन केंद्राें में जाकर शिक्षकों से मुलाकात की और उनकी समस्याओं से रूबरू हुए। उन्होंने बताया कि उन्होंने इलाहाबाद व कौशाम्बी के दर्जनों मूल्यांकन केंद्रों का दौरा कर चुके है। भीषण गर्मी में 66 लाख परीक्षार्थियों की कापियों का मूल्यांकन शिक्षक कर रहे है। ज्यादातर केंद्रों में पेयजल, बिजली व बैठने की व्यवस्था तक नहीं है। केंद्रो की व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए अधिक बजट की जरूरत है। जिसे प्रदेश सरकार को मुहैया कराना चाहिए। उन्होंने कापियों को जांचने वाले शिक्षकों के पारिश्रमिक को बढ़ाने की मांग की। इस मौके पर शिक्षकाें ने उनसे शिकायत कर बताया कि पिछले वर्षो का टीए व डीए नहीं मिला। साथ ही अनुदान भी समय से नहीं मिलता। इस पर स्नातक विधायक ने इन प्रश्नाें को सदन में उठाने का आश्वासन दिया। इस मौके पर सदर विधायक साध्वी निरंजन ज्योति ने भी शिक्षकाें से मुलाकात की और उनकी समस्याओं को सुना। भ्रमण के दौरान लक्ष्मीशंकर द्विवेदी, जगदीश व्यास, शिवाकांत, बृजकिशोर गुप्ता, शिवभूषण सिंह, लखन लाल लोधी, रण विजय सिंह सहित जहानाबाद से आए प्राचार्य गिरिश तिवारी मौजूद रहे।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us