विज्ञापन

जरा सी चूक से 80 बच्चों की जिंदगी खतरे में

Hamirpur Updated Wed, 02 May 2012 12:00 PM IST
मौदहा (हमीरपुर)। छिमौली मार्ग स्थितकांशीराम आवासीय कालोनी में प्राथमिक विद्यालय के लिए 8 बाई 8 के दो कमरों में 80 बच्चों को भूसे की तरह बैठाकर पढ़ाया जा रहा है। इन्हीं कमरों से लगे किचन में मिडडे मील बनाया जा रहा है। कभी भी जरा सी लापरवाही या गैस लीकेज से 80 बच्चों की जिंदगी खतरे में पड़ सकती है. बच्चों के मुताबिक मिड डे मील का राशन भी पूरा नहीं आ रहा है। इस अव्यवस्था के खिलाफ कालोनी के लोगों में गुस्सा है।
विज्ञापन
विज्ञापन
छिमौली मार्ग स्थित कांशीराम आवासीय कालोनी में 376 परिवार है। बेसिक शिक्षा विभाग ने 8बाई8 के दो कमराें वाले आवासीय भवन में प्राथमिक स्कूल चलाया जा रहा है। इसी कमरे से लगा छोटा सा किचन है। जिसमें मिड डे मील का भोजन बनाया जाता है, जहां गैस सिलेंडर भी रखा हुआ है। भोजन बनाने के लिए दो रसोइया है। इस विद्यालय में 80 बच्चे पंजीकृत है लेकिन इनके पढ़ाने को एक शिक्षक है। गर्मी के दिनों में इन छोटे छोटे कमराें में पढ़ाई के लिए बच्चों को ठूंसा जाता है। इनके लिए बीते माह तक 50 किलो चावल और 25 किलो गेहूं आया जो मात्र 10 दिन के लिए है। अब मिड डे मील का राशन बढ़ाकर 47 किलो गेहूं व 133 किलो चावल मिलने लगा है, जो मात्र 60 बच्चों के लिए है। विद्यालय में अभी तक छात्रवृत्ति नहीं दी गई। यहां बनने वाला विद्यालय का निर्माण अभी शुरू नहीं हो सका है। अध्यापक मोहम्मद फहीम सिद्दीकी को नगर पालिका परिषद के चुनाव के लिए बीएलओ भी बना दिया है। इस अव्यवस्था के चलते कालोनी अध्यक्ष अब्दुल मकसूद उर्फ लाला व राकेश श्रीवास सहित लोगों में रोष है। इन्होंने स्कूल का शीघ्र निर्माण व शिक्षामित्र की नियुक्ति की मांग की है। नगर शिक्षा प्रभारी का कार्य करने वाले वरिष्ठ अध्यापक मोइद अहमद ने बताया कि स्कूल निर्माण के लिए धन आवंटित हो गया है और इसके निर्माण कार्य शीघ्र कराने का प्रयास किया जा रहा है।

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

15 DECEMBER NEWS UPDATE: हॉकी वर्ल्ड कप में ऑस्ट्रेलिया और नीदरलैंड के बीच सेमीफाइनल

इंडिगो फ्लाइट को उड़ाने की धमकी, सीएम पर फैसला जल्द और नहीं छोड़ेंगे राफेल पर रार! समेत देखिए देश-दुनिया की खबरें

15 दिसंबर 2018

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree