विज्ञापन
विज्ञापन

दिल, दिमाग के सदुपयोग से छू लें आसमान

Bhadohi Updated Thu, 30 Aug 2012 12:00 PM IST
भदोही। भारतीय कालीन प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईसीटी) में प्रवेश प्रक्रिया पूरा होने के बाद मंगलवार से सेशन का शुभारंभ हो गया। गुरुवार को परंपरा के अनुसार फ्रेशर्स का क्लास निदेशक, प्रो.केके गोस्वामी ने लिया और उन्हें गुरु मंत्र दिया। उन्होंने कहा कि दिल, दिमाग और हाथों का सामूहिक सदुपयोग करके अगले चार वर्षों में वस्त्र उद्योग के लिए ऐसा आइडिया लेकर आएं जिससे आपके साथ साथ देश का भी फायदा हो।
विज्ञापन
विज्ञापन
प्रोफेसर गोस्वामी ने 45 मिनट तक बच्चों को अपनी बातों में बांधे रखा। उन्होंने कहा कि यहां से कैरियर बन भी सकता है और बिगड़ भी सकता है। बताया कि शरीर के तीन महत्वपूर्ण अंग दिल, दिमाग और हाथ को सामूहिक रूप से यदि सदुपयोग करेंगे तो निश्चित की सफलता की ऊंचाइयां चढे़ंगे लेकिन इसमें यदि किसी एक को भी अलग किया तो बाधाएं बाधाएं ही आएंगी। कहा कि मेरी कामना है कि आज से जो सफर आप शुरू करने जा रहे हैं जब इसे समाप्त करें तो आपके पास वस्त्र उद्योग के लिए एक नया आइडिया हो जिसका लाभ लाखों करोड़ों भारतीयों को हो। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि यदि संस्थान की ओर से कुछ कमियां सामने आईं तो उन्हें दूर करने में खुशी होगी।
गेस्ट प्रोफेसर, बीडी दीक्षित ने भी छात्र-छात्राओं को मन को छूती कुछ बातें बताईं। कहा कि पहले अहमियत रोटी, कपड़ा और मकान की थी। लेकिन आज वैश्विक तौर पर कपड़े की अहमियत सबसे पहले हो गई है। और संयोग से आप वस्त्र प्रौद्योगिकी में बीटेक करने जा रहे हैं। जिसका लाभ आपको निश्चित रूप से मिलेगा। प्रो.एसके पाल ने छात्रों को संस्थान से जुड़े कायदे कानून से अवगत कराते हुए वरिष्ठ छात्रों के साथ फ्रैंडली माहौल कायम करने का आह्वान किया। इस सेशन में पांच वरिष्ठ छात्रों वागीस तिवारी, पल्लवी सिंह, मनोज कुमार और राहुल उमराव ने भी हिस्सा लिया और संचालन की जिम्मेदारी तृतीय वर्ष के छात्र अक्षय पांडेय ने बखूबी निभाई। डीन आरके मलिक, ज्वाइंट वार्डेन राजेश वर्मा, प्रीती चौरसिया ने छात्रों को संबोधित किया।

आईआईसीटी में बढ़ रहा युवाओं का आकर्षण
भदोही। आईआईसीटी द्वारा संचालित वस्त्र और कालीन प्रौद्योगिकी तकनीक में बीटेक कोर्स की ओर धीरे धीरे भदोही के लोगों का रुझान बढ़ रहा है। इस वर्ष हुए प्रवेश में कुल 72 छात्रों में से जहां 16 जिले के ही हैं वहीं प्रदेश की बात करें लगभग आधे (34) छात्र उत्तर प्रदेश के हैं। खास बात यह है कि पूर्वांचल के लगभग सभी जिलों के छात्रों का कपड़ा तकनीक में आकर्षण बढ़ रहा है। उल्लेखनीय है कि संस्थान में कुल 60 सीटों के अलावा 12 सीटें लेटरल इंट्री वाले छात्रों के लिए थी जो सीधे द्वितीय वर्ष में होती है। प्रदेश के अलावा काफी बच्चे बिहार और झारखंड के होने के साथ साथ मध्यप्रदेश, आंध्रप्रदेश, दिल्ली से भी आए हैं।

Recommended

HP Board Class 10th & 12th 2019 की परीक्षाओं का सबसे तेज परिणाम देखने के लिए रजिस्टर करें।
HP Board 2019

HP Board Class 10th & 12th 2019 की परीक्षाओं का सबसे तेज परिणाम देखने के लिए रजिस्टर करें।

अक्षय तृतीया पर अपार धन-संपदा की प्राप्ति हेतु सामूहिक श्री लक्ष्मी कुबेर यज्ञ - 07 मई 2019
ज्योतिष समाधान

अक्षय तृतीया पर अपार धन-संपदा की प्राप्ति हेतु सामूहिक श्री लक्ष्मी कुबेर यज्ञ - 07 मई 2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रोहित शेखर की मां उज्जवला तिवारी ने बहू पर उठाए सवाल, यहां देखिए उज्जवला तिवारी का बयान

रोहित शेखर तिवारी की हत्या का जैसे ही खुलासा हुआ वैसे ही मां उज्जवला तिवारी ने एक चौंकाने वाला बयान दिया है। मीडिया के सामने उज्जवला तिवारी ने क्या कहा यहां देखिए।

20 अप्रैल 2019

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election