जांच में सहकारी समिति में मिली अधिक खाद

Bhadohi Updated Thu, 23 Aug 2012 12:00 PM IST
ज्ञानपुर। उप कृषि निदेशक आरएस यादव ने खमरिया नगर के साधन सहकारी समिति के बिक्री केंद्र का औचक निरीक्षण किया। बिक्री केंद्र पर खरीफ 2012 के लिए उपलब्ध कराए गए उर्वरकों की उपलब्धता और वितरण से संबंधित अभिलेखों के अवलोकन करने पर पाया गया कि एक अप्रैल को यूरिया 11 मीट्रिक टन, डीएपी 24.150 मीट्रिक टन, एनपीएस 7.80 एमटी अवशेष थी। खरीफ अभियान के दौरान आठ अगस्त को 24 एमटी यूरिया की आमद हुई। बिक्री केंद्र में एक अप्रैल का अशेष सम्मिलित करते हुए यूरिया की कुल उपलब्धता 35 एमटी रही। केंद्र में खरीफ अभियान के दौरान डीएपी और एनपीएस की आमद नहीं कराई गई। मात्र एक अप्रैल की अवशेष मात्रा डीएपी 24.150 टन और एनपीएस 7.800 एमटी बिक्री के लिए उपलब्ध रही। अधिक मात्रा में खाद क्यों उपलब्ध है, इसका स्पष्टीकरण एक सप्ताह में देने का निर्देश दिया। कहा कि निरीक्षण में पाया गया कि विकास खंड स्तर पर एडीओ कोआपरेटिव के द्वारा निरीक्षण नहीं किया जा रहा है। एआर कोआपरेटिव से ऐसे लापरवाह लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने और उचित निर्देश देने की अपेक्षा की गई। इस मौके पर कुबेर मौर्य, लालजी बिंद, कृष्ण कुमारयादव, मिश्री पटेल, किशन पटेल, बड़ेलाल आदि मौजूद रहे।
मानक के अनुरूप कार्य न होने पर बिफरे एसडीएम
संवाददाता
औराई। उपजिलाधिकारी विद्याशंकर सिंह ने बुधवार को तहसील मुख्यालय परिसर में चल रहे निर्माण कार्य का आकस्मिक निरीक्षण किया। इस मौके पर एसडीएम ने ट्रेजरी कार्यालय निर्माण में बरती जा रही अनियमितता के लिए ठेकेदार को जमकर फटकार लगाई। मानक के अनुरूप कार्य न देखकर ठेकेदार को खरी-खोटी सुनाई। चेतावनी दी कि मानक के अनुरूप कार्य में सुधार न होने पर कार्रवाई की जाएगी। तहसील मुख्यालय में ट्रेजरी कार्यालय निर्माण कार्य कार्यदायी संस्था टीएनडीएस जलनिगम को सौंपा गया है। भवन की नींव तैयार हो चुकी है। इसमें कार्य मानक के अनुरूप न होने की शिकायत मिल रही थी। इसमें ईंट और बालू का प्रयोग मानक के अनुसार नहीं किया जा रहा है।

Spotlight

Related Videos

ये लोग भी राजधानी दिल्ली में ही रहते हैं, जरा इनकी जिंदगी देखिए

बेहतर जिंदगी की चाह में लाखों लोग देशभर से राजधानी दिल्ली आते हैं लेकिन कुछ लोगों की ही जिंदगी बदल पाती है। ज्यादातर बदहाल जिंदगी जीने को अभिशप्त रहते है। ये कहानी कुछ वैसे ही लोगों की है।

23 जून 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen