विज्ञापन

तालाबों पर नहीं किया गया पौधरोपण

Bhadohi Updated Tue, 21 Aug 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
ज्ञानपुर। वृहद पौधरोपण अभियान के तहत जिले के 430 तालाबों पर पौधे लगाए जाने थे। यह कार्य जुलाई के अंत या अगस्त के दूसरे सप्ताह तक कर लिया जाना था। बरसात का मौसम आधा से ज्यादा बीत गया, लेकिन अधिसंख्य तालाबों पर पौधरोपण नहीं किया गया। जिले के सभी विभागों को तालाब आवंटित किए गए थे, जहां उन्हें पौधरोपण करना था।
विज्ञापन
जिले में तीन लाख 12 हजार 400 पौधे लगाने का लक्ष्य शासन और प्रशासन की ओर से निर्धारित किया गया था। इसके लिए विभागवार लक्ष्य निर्धारित कर दिया गया था। शासन ने 289 हेक्टेयर भूमि पर एक लाख 87 हजार 850 पौधे लगाने का लक्ष्य जिले को दिया था। इसके अलावा जिले के 430 तालाबों पर भी एक लाख 24 हजार 550 पौधे लगाने का निर्देश डीएम ने दिया था। इसके लिए विभागों को तालाब भी आवंटित कर दिया गया था। इसमें वन विभाग को 13 हेक्टेयर पर 87750 पौधे, ग्राम्य विकास विभाग को 109 हेक्टेयर पर 70850, ऊर्जा विभाग को दो हेक्टेयर पर 1300, औद्योगिक विभाग को 12 हेक्टेयर पर 7800, सिंचाई विभाग को 10 हेक्टेयर पर 6500, लोक निर्माण विभाग को नौ हेक्टेयर पर 5850, सहकारिता को एक हेक्टेयर पर 650, भूमि संरक्षण विभाग को सात हेक्टेयर पर 4550, उच्च शिक्षा को दो हेक्टेयर पर 1300, माध्यमिक शिक्षा को एक हेक्टेयर पर 650, बेसिक शिक्षा को एक हेक्टेयर पर 650 पौधे लगाने लक्ष्य दिया गया था। जिला वृक्षारोपण समिति की बैठक में जिलाधिकारी ने विभिन्न विभागों को एक लाख 27 हजार 550 पौधे लगाने का निर्देश दिया है। इसमें उच्च शिक्षा विभाग को 1300, माध्यमिक शिक्षा को 15 हजार, बेसिक शिक्षा को 30 हजार, कृषि विभाग को 18 हजार, उद्यान विभाग को 10 हजार, रेशम विभाग को 12 हजार, नगर विकास विभाग को 4000, युवा कल्याण विभाग को 2600, पंचायती राज विभाग को तीन हजार, पशुपालन को 2600, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग को 2600, जिला कार्यक्रम अधिकारी को 1300, पुलिस अधीक्षक को 1300, जल निगम को 10 हजार, क्रीड़ा विभाग को 650, मत्स्य विभाग को पांच हजार, नलकूप विभाग को 2600, जवाहर नवोदय विद्यालय को 1300 और दयावंती पुंज माडल स्कूल को 1300 पौध लगाने का लक्ष्य दिया था। अधिसंख्य विभागों ने इसमें सक्रियता नहीं दिखाई, जबकि कुछ विभागों ने तो कागज पर ही पौधरोपण कर दिया है।

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

वो टेक्नीशियन जो बन गया बॉलीवुड का सुपरस्टार

अपनी बेहतरीन एक्टिंग के लिए दादा फाल्के अवार्ड और पद्म भूषण जैसे पुरस्कारों से सम्मानित हम सभी के दिलों में बसे बॉलीवुड के दिवंगत अभिनेता अशोक कुमार को भुलाए नहीं भूला जा सकता।

10 दिसंबर 2018

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election