धूमधाम से मना आजादी का जश्न

Bhadohi Updated Sat, 18 Aug 2012 12:00 PM IST
ज्ञानपुर। जिले भर में स्वतंत्रता दिवस की 65 वीं वर्षगांठ की धूम रही। जगह-जगह फहराए गए तिरंगे झंडे से आम से लेकर खास लोग जश्न में डूबे रहे। विभिन्न संस्थानों में ध्वजारोहण किे बाद मिठाईयां बांटी गई और सांस्कृतिक कार्यक्रमों स्वतंत्रता दिवस गुलजार रहा।
काशी नरेश राजकीय स्नातकोत्तर महावद्यिालय में 66वां स्वतंत्रता दिवस धूमधाम से मनाया गया। महाविद्यालय के प्राचार्य डा. पन्नालाल द्विवेदी ने ध्वजारोहण किया। कहा कि हमे मिल जुल कर सौहार्दपूर्ण वातावरण में अपने अपने कर्तव्यों का पालन कर राष्ट्र के विकास में लग जाना चाहिए। ताकि स्वतंत्रता की सार्थकता सिद्ध हो सके। दर्शनशास्त्रत्त् के विभागाध्यक्ष डा. विजयकांत दूबे ने शहीदों को नमन किया। कार्यक्रम का संचालन करते हुए संस्कृत के विभागाध्यक्ष डा. भारतेंदु द्विवेदी ने उच्च शिक्षा निदेशक के संदेश का वाचन किया। नगर के पुरानी बाजार स्थित मदरसा मोहम्मदिया अनवारूल उलूम यौमे आजादी की 65 वीं सालगिरह जोश ओ खरोश से मनाया गया। इस मौके पर चेयरमैन हीरालाल मौर्य ने ध्वजारोहण किया। उन्होंने कहा कि लोगों को लंबे संघर्ष के बाद मिली आजादी के महत्व को समझना चाहिए। संचालन कर रहे समाजसेवी शकील दादा ने स्वतंत्रता दिवस पर प्रकाश डाला। उन्होंने मदरसे के शिक्षकों और अभिभावकों को बच्चों के अंदर पढ़ाई के प्रति रुचि बढ़ाने के साथ साथ अपनी जिम्मेदारी निर्वहन करने की अपील की। कार्यक्रम में प्रबंधक जफर अंसारी, इमरान, वहीद अंसारी, जदीद अंसारी, सभासद अकरम मल्ले, मनोज कुमार, सनाउल्लाह मंसूरी, बरकत, सम्सुद्दीन आदि मौजूद रहे। इसी तरह क्षेत्र के धीरपुर बैदा स्थित विश्वनाथ इंटर कालेज में मुख्य अतिथि शिवपूजन मिश्र ने ध्वजारोहण किया। बच्चों ने आकर्षण सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत कर लोगों को मंत्रमुग्ध कर दिया। इस मौके पर महेंद्र मिश्र, राधेश्याम दूबे, आनंद बिंद, देवीशंकर आदि मौजूद रहे। इसी तरह क्षेत्र के जद्दूपुर स्थित शिव विकलांग कल्याण सेवा समिति कार्यालय पर ध्वजारोहण किया गया। इस मौके पर प्रदेश अध्यक्ष गुलाबधर पांडेय सहित राजेश्वर नाथ पांडेय, श्यामधर यादव, विनोद सरोज, महेंद्र तिवारी आदि मौजूद रहे।

Spotlight

Related Videos

सहारनपुर में कैश से भरी दो बोगियां हुईं डीरेल

सहारनपुर में आरबीआई की कैश से भरी दो बोगियां पटरी से उतर गईं। इस खबर के साथ ही अफसरों में हड़कंप मच गया।

26 फरवरी 2018

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen