अमन और सुकून के लिए हुई दुआ

Bhadohi Updated Sat, 18 Aug 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

भदोही। मुकद्दस रमज़ान माह का आखरी जुमा अलविदा, शुक्रवार को पूरी अकीदत के साथ अदा की गई। नगर और ग्रामीण क्षेत्र के विभिन्न मसजिदों में मुसलिम बंधुओं ने अलविदा की नमाज अदा की। भीड़ के चलते कई मसजिदों में जगह की कमी पड़ गई। मेनरोड तकिया कल्लन शाह मसजिद के बाहर सड़क पर नमाज अदा की। नमाज़ के लिए पूर्वान्ह 11 बजे से 2.30 बजे तक यातायात प्रतिबंधित किया गया था। साथ ही सुरक्षा के खास इंतजाम किए गए थे।
विज्ञापन

नगर में अलविदा की नमाज के लिए प्रशासन ने पूरी तैयारी की थी। तकिया कल्लन शाह जामा मसजिद में भीड़ के कारण सड़क पर नमाज अदा की जाती है। इसको देखते हुए लिप्पन तिराहे से अजिमुल्लाह चौराहे के बीच यातायात 3.30 घंटे के लिए रोक दिया गया था। दोपहर 12.30 बजे से मसजिदों में नमाज का दौर शुरू हुआ जो 2.30 बजे तक चला। नमाज के समय एसडीएम भदोही बी.राम सहित पुलिस सड़कों पर चहलकदमी करते दिखे। लिप्पन तिराहे, तकिया कल्लन शाह, अजिमुल्लाह चौराहा सहित मसजिदों के आस पास पहले ही पुलिस बल तैनात कर दिया गया था।
जिले के बाकी कस्बों में भी अलविदा की नमाज अदा की गई। नईबाजार में पूरे उत्साह के साथ नमाज अदा की गई। इस दौरान मसजिदें खचाखच भरी रहीं। सभी मसजिदों में नमाज के बाद अल्लाह के आगे हाथ फैला कर देश में अमन और सुकून के लिए दुआएं की गई। नगर पालिका द्वारा भदोही नगर के विभिन्न मसजिदों और मोहल्लों में साफ सफाई की विशेष व्यवस्था कराई गई।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us