मंदिर से चोरी का खुलासा, पांच गिरफ्तार

Bhadohi Updated Wed, 15 Aug 2012 12:00 PM IST
कौलापुर। गोपीगंज नगर के ज्ञानपुर रोड स्थित राधा-कृष्ण मंदिर से हुई मूर्तियों की चोरी का खुलासा करने का दावा पुलिस ने किया है। पुलिस ने इस मामले में छह आरोपियों को गिरफ्तार किया है। इनके पास से पीली धातु की तीन मूर्ति सहित चोरी की एक बाइक और एक कार बरामद की गई है। सभी आरोपियों को पुलिस ने जेल भेज दिया है। इसका खुलासा गोपीगंज पुलिस ने मंगलवार को किया।
नगर पालिका परिषद गोपीगंज के पीछे स्थित श्रीराधा कृष्ण मंदिर का दरवाजा 12 जनवरी 2011 को तोड़कर चोर अष्टधातु की राधा और कृष्ण की दो बड़ी मूर्तियों के साथ पीली धातु की हनुमानजी, दुर्गा जी और लक्ष्मी की तीन छोटी कुल पांच मूर्तियां उठा ले गए थे। इस मामले में अज्ञात चोरों के खिलाफ थाने में मुकदमा दर्ज किया गया था। जांच में जुटी पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर थानाध्यक्ष गोपीगंज रमेश चौबे, थानाध्यक्ष ऊंज प्रेम यादव और चौकी इंचार्ज गोपीगंज रामाश्रय यादव ने हमराहियों के साथ त्रिभुवनपुर नहर के पास सोमवार की रात को नाकेबंदी करके छह मुश्ताक अहमद और अतीक अहमद निवासी अमवा थाना गोपीगंज, मुहम्मद वाहिद निवासी चुडि़हारी मुहाल गोपीगंज, राकेश सेठ और अमरेश सेठ निवासी हरदेवपुर थाना गोपीगंज को गिरफ्तार कर लिया। इनके पास से पीली धातु की तीन छोटी मूर्तियां, एक टीवीएस स्टार मोटर साइकिल और एक इस्टीम कार के अलावा मय कारतूस तीन तमंचा बरामद किया। कड़ाई से पूछताछ करने पर आरोपियों ने राधाकृष्ण मंदिर गोपीगंज, बरसठी जौनपुर और सैनी कौशांबी आदि मंदिरों से करीब दर्जन भर मूर्तियों के अलावा कई वाहन के चोरी की बात कबूली। आरोपियों ने पुलिस को बताया कि नगर पालिका के पीछे स्थित मंदिर से चोरी की गई अष्टधातु की राधा और कृष्ण की मूर्ति को उन लोगों ने गला दिया था जिसमें तीन प्रतिशत सोना निकला। उस सोने 85 हजार रुपये में बेच दिया गया है। इनके द्वारा सैनी और जौनपुर के बरसठी के मंदिरों से चोरी की गई मूर्तियों को बेचने के लिए मुंबई ले जाया गया था जहां पुलिस ने इन्हें गिरफ्तार कर लिया था। यह मूर्तियां सैनी थाने में पुलिस के हवाले हैं।
ज्ञात है कि राधा-कृष्ण की मूर्ति की चोरी के विरोध में पूरे नगर में उबाल आ गया था। आक्रोशित नागरिकों ने धरना प्रदर्शन और सड़क जाम कर दिया था। मामले के खुलासे के लिए विहिप नेता धर्मेंद्र द्विवेदी दस दिनों तक अनशन पर बैठे रहे। बाद में उनकी हालत नाजुक होने पर पुलिस ने उन्हें उठा लिया और उनका अनशन तोड़वाया गया। मूर्ति चोरी का खुलासा होने पर श्री मंगलम सेवा सेवा समिति के अध्यक्ष कृष्ण कुमार उर्फ खटाई नेता, व्यापार मंडल के प्रदेश मंत्री रमाकांत गुप्ता आदि ने प्रसन्नता जताते हुए पुलिस टीम को बधाई दी है।

Spotlight

Related Videos

फिर विवादों में योगी सरकार का ये मंत्री, जानिए क्या है वजह

अक्सर अपने बयानों को लेकर चर्चा में रहने वाले यूपी सरकार के मंत्री ओम प्रकाश राजभर एक बार फिर विवादों में घिर गए हैं। दरअसल ओम प्रकाश राजभर के बेटे की रिसेप्शन पार्टी में बड़ी तादाद में 18 साल से कम की आयु के बच्चों से काम करवाया गया।

25 जून 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen