अचेत कर वाहन सवार ले गए थे विनीत को

Bhadohi Updated Tue, 17 Jul 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

भदोही। रजपूरा कालोनी से चार दिन पूर्व गायब छात्र विनीत सोमवार को सुबह अपने घर लौट आया। रविवार की शाम लखनऊ स्टेशन से टेलीफोन आने के बाद उसके परिजन लखनऊ के लिए रवाना हो गए थे। विनीत के अनुसार गुमशुदगी वाले दिन कालोनी से बाहर सड़क की ओर जा रहा था कि रास्ते में एक बोलेरो पर सवाल तीन व्यक्तियों ने किसी का पता पूछने के लिए उसे बुलाया और कुछ सुघां कर अचेत कर दिया। इसके बाद क्या हुआ उसे कुछ नहीं पता।
विज्ञापन

विनीत को लेकर उसके पिता सोमवार सुबह 10 बजे घर पहुंचे और पहले तो सभी से मिल कर बिलख बिलख कर खूब रोया इसके बाद सो गया तो लंबी नींद के बाद शाम को 6 बजे ही जगा। जगने पर मौजूद लोगों को विनीत ने बताया कि बोलेरो पर तीन लोग सवार थे। तीनों उसे न जाने कैसे अचेत किए और फिर लेकर चल दिए। इसके तीन दिन बाद जब उसे होश आया तो वह खुद को एक सुनसान इलाके में सड़क किनारे पाया। थोड़ा पैदल चलने पर उसे रेलवे की पटरी दिखी तो ऐसे ही एक ओर चल पड़ा। जब उसे लखनऊ रेलवे स्टेशन दिखा तो उसके जान में जान आई। स्टेशन पर पहुंच कर वह सीधा पार्सल घर पहुंचा और वहां के बाबू से मोबाइल लेकर अपने पिता को फोन किया।
विनीत की बातों से सभी कालोनीवासी सहम गए हैं। लोग इस बात के लिए एकदम डर गए हैं कि सड़कों पर इस तरह के लोग सक्रिय हैं। हालांकि विनीत द्वारा सुनाई गई इस घटनाक्रम में यह समझ से परे है कि आखिर अपहर्ता चाहते क्या थे।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us