विज्ञापन

झोलाछाप के चक्कर में बुझा चिराग

Bhadohi Updated Wed, 04 Jul 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
ज्ञानपुर। कोतवाली क्षेत्र के पूरेगोसाईंदासपुर गांव में झोलाछाप डाक्टर के चलते एक बालक की मौत हो गई। इससे परिवार का चिराग बुझ गया। इससे परिवार में जहां कोहराम मचा हुआ है वहीं पूरे गांव में शोक की लहर दौड़ गई है।
विज्ञापन
गांव निवासी धीरू सिंह (5) पुत्र नरेंद्र कुमार सिंह उर्फ बऊ को कुछ दिन पहले बुखार हुआ था। क्षेत्र के ही एक झोला छाप चिकित्सक से उसका उपचार कराया गया। आरोप है कि चिकित्सक ने बालक को सुई लगा दी जिससे उसकी तबियत अचानक खराब हो गई और उसके पूरे शरीर में छाले पड़ गए। परिजनों ने आनन फानन में स्थानीय कई चिकित्सकों सहित जिला चिकित्सालय में भी उपचार कराया लेकिन हालत में सुधार न होने पर उसे बीएचयू में भर्ती कराया गया था। वहां उपचार के दौरान मंगलवार को बालक की मौत हो गई। मृत बालक के पिता नरेंद्र सिंह उर्फ बऊ की मौत भी सड़क दुर्घटना में चार वर्ष पहले हो गई थी। धीरू इकलौता पुत्र था। बताया जाता है कि उक्त चिकित्सक की लापरवाही से गांव के कई और लोगों की जान जाते-जाते बची है। ऐसे लोगों के खिलाफ ग्रामीणों ने कार्रवाई करने की मांग मुख्य चिकित्सा अधिकारी से की है।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us