विज्ञापन

दामाद, समधी समेत तीन को बनाया बंधक

Bhadohi Updated Wed, 27 Jun 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
गोपीगंज। थानाक्षेत्र के तुरंतपुर गांव में पैसे और गहने के बारे में जानकारी करने आए दामाद, समधी और दामाद के भाई को ससुरालियों ने मारपीट कर घायल करने के बाद बंधक बना लिया। मामला आईजी के संज्ञान में आने पर पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया। गांव में पहुंची पुलिस ने बंधकों को मुक्त कराया। इस मामले में चार लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई गई है।
विज्ञापन
तुरंतपुर गांव निवासी कमला शंकर सेठ की लड़की की शादी सेवापुरी (वाराणसी) थानाक्षेत्र के उपरवार गांव निवासी त्रिलोकीनाथ सेठ के पुत्र रिंकू सेठ के साथ हुई है। कलह के कारण परिवार में काफी तनाव रहता था। इसके चलते रिंकू सेठ पत्नी को लेकर वाराणसी रहता था और वहीं पर कंप्यूटर का क्लास भी चलाता था। आए दिन लड़की का पिता वाराणसी जाता था और विदाई के लिए रिंकू सेठ पर दबाव बनाता था। स्कूल खुल जाने के कारण रिंकू ने पत्नी की विदाई करने में असमर्थता जाहिर की थी। आरोप है कि एक दिन रिंकू की गैर मौजूदगी में उसका श्वसुर वाराणसी स्थित उसके घर पर पहुंचा था। रिंकू की पत्नी ने झुमका, हार सहित 66000 रुपये पिता को दे दिया। बाद में रुपये और गहने न मिलने पर जब रिंकू को पता चला कि उसका श्वसुर गहना रुपये लेकर गया है तो वह इस संबंध में पूछताछ करने के लिए अपने पिता त्रिलोकीनाथ सेठ और भाई राजन सेठ के साथ मंगलवार को तुरंतपुर गांव पहुंच गया। बताया जाता है कि पूछताछ को लेकर उसकी श्वसुर से कहासुनी हो गई। इसके बाद ससुरालियों ने रिंकू, त्रिलोकीनाथ और राजन सेठ की जमकर पिटाई करने के बाद उन्हें बंधक बना लिया। रिंकू ने किसी तरह इसकी जानकारी अपनी मां को दे दी। मां ने इसकी शिकायत पुलिस महानिरीक्षक वाराणसी से की। आईजी के निर्देश पर जिले के पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया। आननफानन में एसओ रमेश चौबे गांव में पहुंच गए और बंधकों को चंगुल से मुक्त कराया और चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया। अन्य आरोपी फरार हो गए। इस मामले में चार लोगों के खिलाफ थाने में मुकदमा पंजीकृत कराया गया है। घायल रिंकू सेठ, त्रिलोकीनाथ सेठ और राजन सेठ का उपचार सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में कराया गया।

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Related Videos

छात्रनेता सुमित शुक्ला की हत्या का CCTV फुटेज, पीछे से गोली मारकर भागा आरोपी

प्रयागराज में छात्रनेता अच्युतानंद उर्फ सुमित शुक्ला हत्याकांड में पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। पुलिस ने हत्या के आरोप में सीएमपी छात्रसंघ अध्यक्ष समेत तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। वहीं इस हत्या का CCTV फुटेज भी आ गया है।

12 नवंबर 2018

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree