विज्ञापन

मारपीट में घायल की मौत पर गांव में तनाव

Bhadohi Updated Sun, 24 Jun 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
चौरी। थाना क्षेत्र के सुरहन गांव में शुक्रवार को पुरानी रंजिश को लेकर हुई मारपीट में घायल एक व्यक्ति की शनिवार को मौत हो गई। इससे पूरे गांव में हलचल मच गई। आक्रोशित ग्रामीण अस्पताल गेट के बाहर ही सड़क जाम करने का प्रयास करने लगे। मौके पर पहुंचे उप जिलाधिकारी भदोही, क्षेत्राधिकारी भदोही और कोतवाल भदोही ने समझा बुझाकर लोगों का गुस्सा शांत किया। इस मामले में सात लोगों के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मुकदमा पंजीकृत किया गया है। इस घटना से गांव में तनाव व्याप्त हो गया है। दूसरे पक्ष के लोग घर में ताला मारकर भाग गए हैं।
विज्ञापन
सुरहन गांव में पुरानी रंजिश को लेकर शुक्रवार को सत्यदेव यादव और झगड़ू पाल के परिवारों के बीच पुरानी रंजिश को लेकर मारपीट हो गई थी। मारपीट में लाठी, डंडे और फावड़े का जमकर प्रयोग हुआ था। इसमें दोनों पक्षों से 14 लोग घायल हो गए थे। तीन लोग गंभीर रूप से घायल हुए थे। घायलों का उपचार भदोही के महाराजा बलवंत सिंह चिकित्सालय में कराया गया था, जबकि गंभीर रूप से घायलों का उपचार इंदिरा मिल तिराहा स्थित एक निजी चिकित्सालय में भर्ती कराया था। शनिवार को पूर्वांह्न करीब 11 बजे उपचार के दौरान सत्यदेव यादव (50) की मौत हो गई। इसकी जानकारी होते ही गांव से बड़ी संख्या में लोग अस्पताल पहुंच गए और अस्पताल के बाहर सड़क जाम का प्रयास करने लगे। सूचना पाकर एसडीएम भदोही बी. राम, क्षेत्राधिकारी उदय शंकर, कोतवाल भदोही अशोक तिवारी, थानाध्यक्ष चौरी शुभ नारायण मौके पर पहुंच गए और ग्रामीणों को समझाने बुझाने का प्रयास करने लगे। एसडीएम ने मृतक के परिजनों को राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना के तहत सहायता राशि तत्काल देने का आश्वासन दिया साथ ही मुख्यमंत्री सहायता कोष से भी सहायता राशि दिलाने का आश्वासन दिया। इससे जाम नहीं हो सका और पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। भदोही के सपा विधायक जाहिद बेग और सपा नेता अमरेश मिश्र भी सूचना पाकर अस्पताल पहुंच गए। घटना की जानकारी होते ही सुरहन गांव में तनाव व्याप्त हो गया। पाल पक्ष के लोग अपने घरों में ताला लगाकर भूमिगत हो गए हैं। शुक्रवार को मारपीट के बाद दोनों पक्षों की ओर से सात-सात लोगों के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कराया गया था। शनिवार को सत्यदेव यादव की मौत के जवाहिर की तहरीर पर पाल पक्ष के सातों लोगों के खिलाफ गैर इरादन हत्या का मुकदमा भी दर्ज कर लिया गया है। मृतक सत्यदेव यादव चार भाइयों में सबसे छोटा था। इसके तीन पुत्र हैं। दो लड़के सूरत में रहते हैं। एक लड़का करिया घर पर रहता है वह भी मारपीट में घायल हो गया है।

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Related Videos

बाल विवाह से बची तो पढ़ाई भी जारी रख पाई प्रीति

प्रीती आज जब बोलती है कि “हमारी शादी भी रुक गयी और हम बीए की पढ़ाई भी कर रही हैं”, तो उसके चेहरे की खुशी देखते ही बनती है।

14 नवंबर 2018

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree