जन लोकपाल को लेकर राजनैतिक दलों का चेहरा उजागर

Bhadohi Updated Fri, 15 Jun 2012 12:00 PM IST
ज्ञानपुर। टीम अन्ना कोर कमेटी के सदस्य संजय सिंह ने कहा है कि जन लोकपाल विधेयक को लेकर राजनैतिक दलों का दो मुंहापन उजागर हो गया है। संसद में मजबूत जनलोकपाल को राजनैतिक दल के लोगों ने ही देश के संघीय ढांचे को खतरा बताते हुए विरोध किया है। इससे साबित होता है, राजनैतिक दल के लोग ही विधेयक को पास में रोड़ा अटका रहे हैं। श्री सिंह गुरुवार को इंडिया अगेंस्ट करप्शन की ओर से आयोजित अन्ना संदेश यात्रा के ज्ञानपुर में पहुंचने पर एक प्रतिष्ठान में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।
उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार में बैठे कई मंत्रियों, लोकसभा के 162 एवं राज्यसभा के 39 दागी सांसदों के रहते हुए भ्रष्टाचार के खिलाफ कभी जन लोकपाल कानून पारित नहीं किया जा सकता। इससे देश भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ते हुए खोखला होता जा रहा है। देश की सरकार जनता को सस्ते दामों पर चिकित्सा, शिक्षा, बिजली, पानी, पेट्रोल, डीजल व किसानों के फसल का उचित मूल्य दिए जाने की मांग पर सरकारी घाटे का रोना रो रही है, जबकि सरकार में बैठे लोग ही लाखों, करोड़ाें का घोटाला करके बैठे हुए हैं। उन्होंने कहा कि अगर ये घोटाला न करते तो देश के करोड़ों लोगों को सारी सुविधाएं निशुल्क एवं सस्ते दामों पर उपलब्ध कराई जा सकती हैं। कहा कि केंद्र की यूपीए सरकार मजबूत लोकपाल बनाने का वादा करके बार-बार जनता को धोखा दिया है। कहा कि कांग्रेस ने लोकपाल कानून पास होने में अड़ंगा डालकर खुद फंस रही है। भ्रष्टाचार के खिलाफ कांग्रेस सभी राजनैतिक दलों के साथ मिलकर कानून बनाती तो उसे अवश्य ही आगामी लोकसभा चुनाव में फायदा होता। कहा कि अन्ना हजार और उनकी कोर कमेटी अपने लिए नहीं बल्कि देश की खुशहाली के लिए भ्रष्टाचार के खिलाफ कानून बनाने के लिए अभियान पर है। देश की जनता का अन्ना टीम को भरपूर समर्थन भी मिल रहा है। इससे राजनैतिक दल के दागी लोग घबड़ाए हुए हैं। इस मौके पर श्रीमती ललिता, राजेंद्र मिश्र, अर्चना, विकास मणि सहित अन्य लोग मौजूद रहे।

20 जून को लखनऊ पहुंचेगी अन्ना संदेश यात्रा
ज्ञानपुर। इंडिया अगेंस्ट करप्शन की ओर से आयोजित अन्ना संदेश यात्रा के प्रभारी अरविंद त्रिपाठी ने बताया कि पांच जून को लोकनायक जय प्रकाश नारायण के जन्मस्थली से क्रांति दिवस से शुरू हुई यात्रा प्रदेश के 28 जिलों से गुजरेगी। इसके बाद 20 जून को लखनऊ पहुंचेगी। उन्होंने भ्रष्टमंत्रियों के खिलाफ आगामी 25 जुलाई से शुरू हो रही कोर कमेटी के सदस्य अरविंद केजरीवाल के अनशन को सफल बनाने के लिए जनता से उस दिन सड़क पर उतरने की अपील की।

Spotlight

Related Videos

VIDEO: उत्तराखंड में मौसम ने ली करवट, केदारनाथ में बर्फबारी

उत्तराखंड में मौसम ने एक बार फिर करवट ली है। सूबे के ऊंचे इलाकों में शनिवार को बर्फबारी देखने को मिली। शनिवार दोपहर को केदारनाथ और बद्रीनाथ दोनों ही जगहों पर बर्फबारी हुई।

24 फरवरी 2018

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen