चौकी प्रभारी से सपाइयों को उलझना पड़ा महंगा

Bhadohi Updated Tue, 12 Jun 2012 12:00 PM IST
औराई। रविवार की देर शाम एक ट्रैक्टर पर लदी हरी लकड़ी को छुड़ाने के लिए सपा कार्यकर्ताओं और खमरिया चौकी इंचार्ज के बीच हुई नोकझोंक के मामले ने तूल पकड़ लिया है। पुलिस ने सपा के दो नेताओं के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कर जेल भेज दिया।
माधोसिंह रेलवे क्रासिंग से रविवार को देर शाम पुलिस एक ट्रैक्टर पर लदे हरे पेड़ की लकड़ी को पकड़कर खमरिया चौकी ले गई। लकड़ी लदी ट्रैक्टर को छुड़ाने के लिए समाजवादी पार्टी के बैजनाथ यादव भुल्लुर और सपा नेता दया शंकर यादव बड़ी संख्या में समर्थकों के साथ पुलिस चौकी खमरिया पर धमक पड़े। बताया जाता है कि सपा नेताओं और चौकी इंचार्ज के बीच जमकर तीखी नोकझोंक हुई। यह देख पुलिस के जवान सपा नेताओं पर टूट पड़े और उनकी जमकर धुनाई शुरू कर दी। यह देख साथ गए तमाम समर्थक उल्टे पांव भाग खड़े हुए। चौकी इंचार्ज ट्रैक्टर पर लदी लकड़ी सहित दोनों सपाइयों को औराई थाने लेकर पहुंचे। उच्चाधिकारियों को फोनपर पूरा मामला बताया गया। सूचना पाकर पुलिस अधीक्षक और क्षेत्राधिकारी भी थाने पहुंच गए। पुलिस ने लकड़ी लदे ट्रैक्टर को सीज कर दिया और आरोपियों के खिलाफ धारा 307, 332, 353, 504 एवं 506 के तहत मुकदमा पंजीकृत कर रात में ही जेल भेज दिया। साथ ही ट्रैक्टर संख्या यूपी 65 सी 4276 और लकड़ी को व्यापारी चंदन सिंह निवासी अहिमनपुर को वन संरक्षक अधिनियम के तहत गिरफ्तार कर लिया। सोमवार को सुबह मामले की खबर मिलते ही बड़ी संख्या में सपा नेता औराई थाने पर डंटे रहे। कार्यकर्ता खिन्न दिखे और पुलिस पर आरोप लगाते रहे।

Spotlight

Related Videos

एक नाखून पर ये नेल पेंट लगाने की कीमत है पौने दो लाख रुपये!

अक्सर हम सुनते हैं कि शौक बड़ी चीज होती है। ये कहावत सच मालूम पड़ती है, क्योंकि अब हम आपको एक ऐसी नेल पॉलिश के बारे में बताएंगे जिसके दाम में आप मर्सडीज कार या फिर बीएमडब्लू या जैगवॉर खरीद सकते हैं। देखिए, अमर उजाला टीवी स्पेशल रिपोर्ट।

23 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper