गेहूं के भंडारण की नहीं हुई व्यवस्था

Bhadohi Updated Sun, 10 Jun 2012 12:00 PM IST
जंगीगंज। गेहूं क्रय केंद्रों पर भंडारण की समुचित व्यवस्था नहीं हो पा रही है। मौसम के बदलते रुख से अधिकारी भी परेशान हो गए हैं। गेहूं को खुले मैदान से लेकर सड़क के किनारे तक खुले आसमान के नीचे रखा गया है। दो दिन से मौसम के करवट बदलने से आसमान के नीचे रखे गेहूं के खराब होने का खतरा मंडराने लगा है। यदि तत्काल समुचित भंडारण की व्यवस्था नहीं की गई तो हजारों कुंतल अनाज मानसून की भेंट चढ़ सकता है।
डीघ विकास खंड के सूफीनगर स्थित गेहूं क्रय केंद्र जंगीगंज में शासन से निर्धारित खरीद लक्ष्य के सापेक्ष अधिक गेहूं की खरीद हो गई है। केंद्र को 11 हजार कुंतल खरीद करने का लक्ष्य दिया गया था जबकि 14 हजार कुंतल से ज्यादा की खरीद अभी तक हो गई है। भंडारण की व्यवस्था न होने से खुले आसमान के नीचे रखा गेहूं मौसम की भेंट चढ़ सकता है। केंद्र पर किसानों के द्वारा गेहूं लाने का सिलसिला लगातार जारी है। दिन भर तौल और खरीद होने के बावजूद भी गेहूं से लदे दर्जन भर ट्रैक्टर केंद्र पर अपनी बारी का इंतजार करते देखे जा सकते हैं। आलम यह है कि जिस गेहूं को खरीदा जा चुका है उसका भी उचित भंडारण नहीं हो सका है। आसपास के घरों के सामने व जीटी रोड के सर्विस लेन पर गेहूं की बोरियां रखी गई हैं। मौसम का मिजाज देखते हुए बारिश की आशंका जाहिर की जा रही है। यदि ऐसा हो गया तो काफी मात्रा में अनाज नष्ट हो सकता है। विभाग के द्वारा किसी तरह से तीन निजी गोदामों को किराए पर लिया गया है जिसमें करीब तीन हजार कुंतल गेहूं को भंडारण किया गया है। छह हजार कुंतल गेहूं अब भी खुले आसमान के नीचे ही पड़ा है। वरिष्ठ विपणन निरीक्षक संदीप कुमार निगम ने बताया कि जिलाधिकारी के निर्देश औराई चीनी मिल के गोदाम की मरम्मत की जा रही है। शीघ्र ही यहां भंडारण की व्यवस्था हो जाएगी।

Spotlight

Related Videos

‘10 महीनों में बीमारू राज्यों की सूची से बाहर आया यूपी’ समेत सुबह की 10 बड़ी खबरें

अमर उजाला टीवी पर देश-दुनिया की राजनीति, खेल, क्राइम, सिनेमा, फैशन और धर्म से जुड़ी खबरें LIVE देख सकते हैं, हमारे LIVE बुलेटिन्स हैं - यूपी न्यूज सुबह 9 बजे, न्यूज ऑवर दोपहर 1 बजे, यूपी न्यूज शाम 7 बजे

19 फरवरी 2018

Switch to Amarujala.com App

Get Lightning Fast Experience

Click On Add to Home Screen