डीसीएम के धक्के से कालीन बुनकर की मौत

Bhadohi Updated Thu, 07 Jun 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

गोपीगंज। नगर के कांजी हाउस मुहल्ले में जीटी रोड पर सड़क पार करते समय डीसीएम की चपेट में आने से एक कालीन बुनकर की मौके पर ही मौत हो गई। घटना से आक्रोशित ग्रामीणों ने शव को सड़क पर रखकर जाम लगा दिया। समझाने बुझाने के बाद जाम न खोलने पर पुलिस ने लाठियां भांजकर ग्रामीणों को खदेड़ दिया। इसके बाद शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।
विज्ञापन

गोपीगंज थाना क्षेत्र के टीकापुर गांव निवासी संजीव कुमार बिंद (30) पुत्र स्व. गुरुचरन बिंद कालीन बुनकर का कार्य करता था। बुधवार को पूर्वांह्न करीब 10 बजे वह कांजी हाउस के पास सड़क पार कर रहा था। इसी बीच बर्फ लादकर गोपीगंज से झिलियापुल की तरफ जा रहे एक डीसीएम ने उसे जोरदार धक्का मार दिया। इससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। आनन फानन में नागरिक उसे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले गए, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इसी बीच मौका पाकर चालक वाहन लेकर भाग निकला। घटना की जानकारी होते ही बड़ी संख्या में गांव के लोग मौके पर पहुंच गए और शव को सड़क पर रखकर जाम कर दिया। जाम करीब एक घंटे तक चला। सड़क के दोनों तरफ वाहनों की लंबी कतार लग गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने समझा बुझाकर जाम को खत्म कराने का प्रयास किया, लेकिन आक्रोशित ग्रामीण जाम खत्म करने को तैयार नहीं हुए। इसके बाद पुलिस ने हल्का बल प्रयोग कर भीड़ को सड़क पर से खदेड़ दिया और जाम खुलवाया। शव को कब्जे में लेकर पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मौत की खबर से परिवार में जहां कोहराम मच गया वहीं पूरे गांव में शोक की लहर दौड़ गई। मृतक को तीन लड़कियां हैं। उसके पिता गुरुचरन की भी मौत एक साल पहले ट्रेन से कटकर हो गई थी।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us